आसाराम के गौशाला में कब्जे को लेकर सेवादारों में खूनी संघर्ष

  • आसाराम के गौशाला में कब्जे को लेकर सेवादारों में खूनी संघर्ष
You Are HereNational
Sunday, December 22, 2013-9:19 AM

मुरैना (मप्र): चंबल क्षेत्र स्थित ढेंगदा गांव में आसाराम बापू की गौशाला पर कब्जे को लेकर शुक्रवार शाम वहां कार्यरत सेवादार आपस में ही भिड़ गए। चार सेवादारों ने मिलकर गौशाला के प्रभारी और आसाराम के वरिष्ठ सेवादार प्रभू राम की जमकर धुनाई कर दी।

पुलिस सूत्रों के अनुसार श्योपुर जिले की ढेंगदा गांव की गौशाला में राजस्थान के जोधपुर निवासी प्रभु राम (33) तीन साल से गौशाला के प्रभारी है। शुक्रवार की शाम गौशाला के अन्य सेवादार दयाराम, मृत्युंजय, रामसेवक और जगदीश का प्रभु राम से पैसों के लेन-देन को लेकर झड़प हो गई। कुछ ही देर में विवाद ऐसा बढ़ा कि चारों ने मिलकर प्रभु राम की धुनाई कर दी और जान से मारने की धमकी देने लगे।

मारपीट की घटना में प्रभु राम के गंभीर चोटें आई हैं। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बकौल प्रभु राम चारों सेवादार उसे गौशाला से बेदखल कर गौशाला की संपत्ति व आश्रम को हड़पना चाहते हैं। पुलिस अनुविभागीय अधिकारी अशोक भदौरिया ने बताया कि प्रभु राम की शिकायत पर हरिजन थाने में दयाराम, मृत्युंजय, रामसेवक और जगदीश के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। घटना के बाद हमलावर सेवादार गौशाला से फरार हो गए हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You