ATM में हमले का शिकार हुई ज्योति की अस्पताल से छुट्टी, आरोपी अब भी फरार

  • ATM में हमले का शिकार हुई ज्योति की अस्पताल से छुट्टी, आरोपी अब भी फरार
You Are HereNational
Sunday, December 22, 2013-1:07 PM

बेंगलूर: बेंगलूर के एक एटीएम मेें हमले का शिकार हुई महिला बैंक कर्मी को घटना के एक महीने बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। बीजीएस ग्लोबल अस्पताल के प्रमुख न्यूरोसर्जन सह उपाध्यक्ष डॉ. एन के वेंकटरमण ने कहा, ‘उन्हें दवा लेते रहने और नियमित तौर पर सेहत की जांच कराने की सलाह के साथ छुट्टी दी गई है। हम चाहते हैं कि वह अब से एक महीने के भीतर जांच के लिए अस्पताल आएं।’

पिछले 19 नवंबर को 38 साल की ज्योति उदय पर एक एटीएम बूथ के भीतर धारदार हथियार से हमला किया गया था। कॉरपोरेशन बैंक में काम करने वाली ज्योति पर हमले का सीसीटीवी फुटेज मीडिया में दिखाए जाने पर देश भर में सनसनी फैल गयी थी। वेंकटरमण ने कहा कि ज्योति जब अस्पताल में भर्ती कराई गई थीं तो उनके सिर और चेहरे पर गंभीर चोट थी। उनके दायें हाथ और पांव में भी काफी कमजोरी आ गई थी।

घटना को याद करते हुए ज्योति ने कहा कि वारदात के दिन वह अपनी बेटी की फीस के लिए एटीएम से पैसे निकालने गयी थीं कि तभी एक शख्स एटीएम बूथ के अंदर आ गया और उसने शटर गिरा दिया। आरोपी ने धारदार हथियार से उसके गले पर जख्म दिया जिससे वह बेहोश हो गयी और करीब तीन घंटे तक खून बहता रहा। हमले के एक महीने बाद भी आरोपी गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। पुलिस ने कहा कि वह उसकी गिरफ्तारी की ‘हरसंभव’ कोशिश कर रही है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You