बिहार का अतीत गौरवशाली रहा है, उसे हम फिर से प्राप्त करेंगे: नीतीश

  • बिहार का अतीत गौरवशाली रहा है, उसे हम फिर से प्राप्त करेंगे: नीतीश
You Are HereNational
Monday, December 23, 2013-9:58 AM

पटना: राज्य सरकार के करीब आठ साल के कार्यो पर संतोष व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज कहा कि बिहार का अतीत गौरवशली रहा है, उसे हम फिर प्राप्त करेंगे। बिहार के बेगूसराय जिला के गढपुरा राजकीयकृत उच्च विदयालय गढपुरा के मैदान में आयोजित एक जनसभा के दौरान 34458 करोड रुपये की विभिन्न विकास योजनाओं का उदघाटन एवं शिलान्यास करते हुये नीतीश ने कहा कि हम न केवल बिहार के गौरवशाली अतीत को प्राप्त करने में सफल होंगे बल्कि जनता के सहयोग से आने वाले वर्षो में कुछ नए आयामों को जोडेंगे।

बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण बाबू जिन्होंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत इसी गांव से की थी, उनके नमक सत्याग्रह को याद करते हुए नीतीश ने कहा कि उन्हें बिहार का निर्माता बताया और कहा कि नमक सत्याग्रह के दौरान यहां नमक बनाया था। श्रीकृष्ण बाबू की 125वीं जयंती के अवसर पर उन्होंने बेगूसराय -मंझौल -गढपुरा पथ का नामकरण नमक सत्याग्रह पथ बेगूसराय मंझौल गढपुरा किये जाने की घोषणा करते हुए कहा कि गढपुरा रेलवे स्टेशन का नामकरण डा0 श्रीकृष्ण सिंह नगर रेलवे स्टेशन गढपुरा करने का अनुरोध भारत सरकार से किया गया है।

उन्होंने कहा कि बिहार के लोगों को रोजी रोटी के लिए बाहर जाना पडता है मगर इस सिलसिले में कमी आयी है। देश के हर नागरिक का मौलिक और संवैधानिक अधिकार है कि वह देश के किसी भी हिस्से में जा सकता है वहां रोजी रोटी कमा सकता है। नीतीश ने कहा कि वह चाहते है कि बिहार के लोग ज्यादा पैसा कमाने के लिए जहां जाना चाहें, जायें, दौलत कमायें मगर दो जून रोटी के लिये उन्हें राज्य से बाहर पलायन न करना पड़े।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You