नर्मदा-मालवा परियोजना को सर्वोच्च प्राथमिकता से पूरा करें: शिवराज

  • नर्मदा-मालवा परियोजना को सर्वोच्च प्राथमिकता से पूरा करें: शिवराज
You Are HereNational
Friday, December 27, 2013-2:09 PM

भोपाल: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए हैं कि नर्मदा-मालवा परियोजना को समय-सीमा में सर्वोच्च प्राथमिकता से पूरा किया जाए। इस परियेाजना के तहत नर्मदा नदी से गंभीर, पार्वती और कालीसिंध नदी को जोड़ा जाना है। पहले चरण में नर्मदा को क्षिप्रा नदी से जोडऩे का काम लगभग पूरा हो गया है।
 
मुख्यमंत्री चौहान ने यहां नर्मदा घाटी विकास विभाग की समीक्षा करते हुए नर्मदा-क्षिप्रा लिंक परियेाजना का परीक्षण तथा लोकार्पण की तैयारी के निर्देश दिए। नर्मदा घाटी विकास विभाग की निर्माणाधीन सिंचाई परियेाजनाओं की समीक्षा करते हुए चौहान ने कहा कि नर्मदा-क्षिप्रा लिंक परियोजना में उर्जा की खपत का वास्तविक आकलन किया जाए तथा नर्मदा घाटी की अन्य सिंचाई परियेाजनाओं की नहरों में ‘लाइनिंग’ का काम समय-सीमा में पूरा करें। विभागीय अधीक्षण यंत्री इस काम की लगातार निगरानी करें।
 
बैठक में बताया गया कि विभाग द्वारा अगले पांच वर्ष में सिंचाई क्षमता में छह लाख हेक्टेयर वृद्धि की योजना बनाई गई है। नर्मदा-क्षिप्रा लिंक योजना से इंदौर-उज्जैन और देवास जिले के 150 गांवों को लाभ मिलेगा तथा नर्मदा-मालवा परियोजना से 153 गांवों में लगभग 50 हजार हेक्टेयर में सिंचाई सुविधा उपलब्ध होगी। इस अवसर पर इंदिरा सागर, ओंकारेश्वर, मान, जोबट, बरगी व्यपवर्तन, पुनासा उद्वहन और अपर नर्मदा परियोजना की समीक्षा भी की गई।
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You