केजरीवाल में दिखा ‘फिल्मी हीरो’

  • केजरीवाल में दिखा ‘फिल्मी हीरो’
You Are HereNational
Sunday, December 29, 2013-9:16 AM

नई दिल्ली: अरविंद केजरीवाल को उनके कई समर्थक वास्तविक नायक के रूप में देखते हैं, लेकिन उनमें से कुछ तो उन्हें किसी और ही नायक के रूप में पूजते नजर आए। शनिवार को जब केजरीवाल ने रामलीला मैदान में दिल्ली के सातवें मुख्यमंत्री पद की शपथ ली, तो उनके शपथ ग्रहण समारोह में आए उनके कई समर्थकों के हाथों में केजरीवाल के पोस्टर दिखाई दिए। इन पोस्टरों में हिंदी फिल्म जगत के नामचीन मुख्य अभिनेताओं की तस्वीरों को ही केजरीवाल का चेहरा लगाकर तैयार किया गया था।

इन पोस्टरों में भी सर्वाधिक चर्चित रहा नायक फिल्म के अभिनेता अनिल कपूर के पोस्टर को बदलकर बनाया गया केजरीवाल का पोस्टर। वास्तव में लोगों को केजरीवाल का चेहरा काफी हद तक फिल्म ‘नायक’ में एक दिन का मुख्यमंत्री बने अनिल कपूर से मिलता-जुलता लगता है। फिल्म में एक समान्य वर्ग के व्यक्ति का किरदार निभाने वाले अभिनेता अनिल कपूर को मुख्यमंत्री बनने के बाद भ्रष्ट राजनीतिज्ञों से लड़ते और व्यवस्था को भ्रष्टाचार मुक्त करते दिखाया गया है। अन्य प्रमुख पोस्टरों में ‘क्रिस’ और ‘सुपरमैन’ के आधार पर बनाए गए पोस्टर रहे।

34 वर्षीय हरिनारायण शनिवार को एकदम सुबह ही रामलीला मैदान पहुंच गए, लेकिन वह अरविंद केजरीवाल को शपथ लेता देखने नहीं आए थे, बल्कि कमाई करने आए थे। पेशे से कार मैकेनिक हरिनारायण हाथ में केसरिया, सफेद और हरे रंग की बोतल और ब्रश लेकर लोगों को तिरंगे में रंगते तथा ‘आप’ के नारे लिखी टोपियां बेचते नजर आए। टोपी की कीमत 10 रुपये तथा एक गाल पर तिरंगा रंगवाने की कीमत पांच रुपये थी। नारायण ने आईएएनएस को बताया ‘‘बहुत अच्छी कई हुई।’’

रामलीला मैदान में पहुंचते ही चारों तरफ जैसे ‘आप’ के नारे लिखे सफेद टोपियों का सैलाब उमड़ा नजर आया। सफेद टोपियां पहने दसियों हजार ‘आप’ समर्थक आम जनता तिरंगा, विभिन्न रंग एवं आकार वाले केजरीवाल के पोस्टर, रंगीन गुब्बारे और पार्टी का चुनाव चिह्न झाड़ू लहरा रहे थे। इन टोपियों पर ‘आम आदमी पार्टी जिंदाबाद’, ‘मुझे चाहिए स्वराज’ और ‘मुझे चाहिए पूरी आजादी’ जैसे नारे लिखे थे।

केजरीवाल ईमानदारी और भ्रष्टाचार को खत्म करने की बात करते हैं, लेकिन खचाखच भरे रामलीला मैदान में कुछ लोग सधे हुए हाथों से दूसरों की जेब साफ करने से भी नहीं चूके। पुलिस के अनुसार, उन्हें जेबतराशी की कई शिकायतें मिलीं लेकिन सिर्फ 10 लोगों ने ही इसकी लिखित शिकायत कमला मार्केट पुलिस थाने में  दर्ज करवाई।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You