गांगुली के खिलाफ जांच के लिए राष्ट्रपति को राय भेजेगी सरकार

  • गांगुली के खिलाफ जांच के लिए राष्ट्रपति को राय भेजेगी सरकार
You Are HereNational
Sunday, December 29, 2013-3:14 PM

नई दिल्ली: सरकार न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) ए के गांगुली के खिलाफ कथित यौन उत्पीडऩ़ के आरोपों की जांच के लिए इस सप्ताह राष्ट्रपति की राय को उच्चतम न्यायालय को भेज सकती है। अटर्नी जनरल ने इसपर हामी भर दी है। गृह मंत्रालय केंद्रीय मंत्रिमंडल की अगली बैठक में राष्ट्रपति की राय को भेजने के बारे में नोट रख सकता है जिसमें अटर्नी जनरल जी ई वाहनवती के विचारों को शामिल किया जायेगा।

वाहनवती का कहना है कि महिला लॉ इंटर्न के प्रति ‘अवांछित व्यवहार’ के आरोपों के मद्देनजर गांगुली के खिलाफ मामला बनाया जा सकता है। सू़त्रों ने कहा कि एक बार मंत्रिमंडल प्रस्ताव को पास कर देता है, तो इसे मंजूरी के लिए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पास भेजा जायेगा। इसके बाद गृह मंत्रालय राष्ट्रपति की राय को भारत के प्रधान न्यायाधीश के पास भेजेगा ताकि इस पूरे मामले की नये सिरे से जांच करायी जा सके।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You