राहत कैंपों से शिविरार्थियों को वैकल्पिक व्यवस्था तक नहीं हटाना चाहिए

  • राहत कैंपों से शिविरार्थियों को वैकल्पिक व्यवस्था तक नहीं हटाना चाहिए
You Are HereNational
Sunday, December 29, 2013-5:21 PM

मुजफ्फरनगर: सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार मुजफ्फरनगर के राहत कैंपों से शिविरार्थियों के लिए जब तक कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं हो जाए तब तक उन्हें नहीं हटाना चाहिए। यू.पी सरकार ने दंगा पीडितों के लिए इतना कार्य नहीं किया जितना उसे करना चाहिए था। पूर्व रेलमंत्री लालू प्रसाद यादव ने कहा कि साम्प्रदायिक ताकते देश को तोडना चाहती है जबकि धर्मनिरपेक्ष ताकते देश को बचाने का प्रयास कर रही है।

उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह यादव को इस तरफ ध्यान देना चाहिए। दंगा पीडि़तों के लिए रोजगार और घर उपलब्ध कराना सरकार की जिम्मेदारी है इसके लिए उसे प्रयास करना चाहिए। भारतीय जनता पार्टी देश का दुशमन बताते हुए कहते है कि आने वाले चुनाव में ये फैसला आपको ही करना है कि आपको किसे अपना वोट देना है। ये बयान लोई राहत शिविर में विस्थापितों से मिलने जा रहे लालू प्रसाद यादव ने गुप्ता रिसोर्टस पर पत्राकारों से बातचीत करते हुए दिए।

उत्तर भारत खासकर हिंदी भाषी क्षेत्रों में कुछ साम्प्रदायिक लोग आकर अपने स्वार्थ के लिए लोगों को एक दूसरे से लडाकर उन्हे बाटना चाहते है। देश को तोडने वाली ताकतों से आपको सावधान रहना है। उन्होंने कहा कि भगवान गणेश जी को दूध पिलाने वाले लोग नहीं चाहते कि सभी लोग आपस में मिलजुलकर रहे। वे देश को बाटने का प्रयास कर रहे है। साम्प्रदायिक पार्टियां राष्ट्र हित में नहीं है वे लालकिले पर तिरंगा नहीं भगवा ध्वज फ हराना चाहते है।

उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी और अरविंद केजरीवाल सिर्फ टीवी के नेता है। आपको ऐसे लोगों से सावधान रहना है। कांग्रेस पूरे देश की पार्टी है जबकि दूसरी पार्टियां क्षेत्रीय है। ऐसी छोटी पार्टियों से सावधान रहना होगा। राहुल गांधी की तारीफ  में कसीदे पढ़ते हुए कहा कि वह भी आमजनता को राष्ट्र की मुख्यधारा में लाने के लिए काम कर रहे है। बढते भ्रष्टाचार के संबंध में उन्होंने कहा कि जो भ्रष्टाचारी होता है वहीं भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाता है।

Edited by:Rakesh Tyagi

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You