भाजपा को दिल्ली में अल्पमत की सरकार बनानी चाहिए थी: शिवसेना

  • भाजपा को दिल्ली में अल्पमत की सरकार बनानी चाहिए थी: शिवसेना
You Are HereNational
Tuesday, December 31, 2013-10:16 AM

मुंबई: हालिया विधानसभा चुनाव में अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी के करिश्माई प्रदर्शन को स्वीकार करते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि सहयोगी पार्टी भाजपा को दिल्ली में अल्पमत की सरकार बनानी चाहिए थी। उद्धव ने कहा, भाजपा (सहयोगी दल सहित) को 32 सीटें मिली। वह एक अल्पमत की सरकार बना सकती थी। हमें लगता है कि यह बढिय़ा होता कि वे ऐसा करते। उन्होंने यहां पार्टी के मुखपत्र सामना में कहा है, यदि आप सरकार मुफ्त पानी और रियायती दर पर बिजली मुहैया करने में सक्षम है तो ऐसा कहना चाहिए कि भाजपा सरकार के लिए भी संभव था। यह स्वीकार करना चाहिए कि आप ने दिल्ली में करिश्माई प्रदर्शन किया। दिल्ली में आम आदमी और सरकारी कर्मचारियों ने आप को वोट दिया। उन्होंने कहा कि हमारा लोकतंत्र आश्चर्यजनक है।

यह तय नहीं है कि यह किसी खास पुंगी (बीन) वाले के पीछे चलेगा। शिवसेना नेता ने कहा कि किसी की क्षमता अन्य को नियमित तौर पर एजेंट और भ्रष्ट बताकर नहीं साबित होती। जो शासन करते हैं उन्हें अवश्य ही शासक की तरह बर्ताव करना चाहिए और शासन करना चाहिए। उन्होंने कहा, च्च्एक समय लालू प्रसाद ने भी वही उत्साह दिखाया था जो केजरीवाल दिखा रहे हैं। उन्होंने भी पुंगी बजाकर एक आभामंडल बनाया था। वही लालू उस वक्त कुछ नहीं कर पाए जब बिहार में उनके हाथों में सत्ता थी और अब भ्रष्टाचार के आरोप में उन्हें जेल जाना पड़ा। केजरीवाल के मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण के दौरान रामलीला मैदान में उमड़ी भारी भीड़ पर उद्धव ने कहा, भीड़ जुटाने के लिए कुछ खास तकनीक है। यदि ये तकनीक सावधानी से इस्तेमाल की जाएं तो भीड़ जुट जाती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You