मेरे पास हैं सिर्फ 48 घंटे, निपटाने हैं महत्वपूर्ण कार्य

  • मेरे पास हैं सिर्फ 48 घंटे, निपटाने हैं महत्वपूर्ण कार्य
You Are HereNational
Tuesday, December 31, 2013-10:03 PM

नई दिल्ली(अशोक शर्मा): मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि सरकार रहे या नहीं रहे, वह अगले 48 घंटे में जनहित में अच्छा काम करना चाहते हैं। उन्हें 2 जनवरी को विधानसभा के सदन में विश्वास मत हासिल करना है।

मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं को बताया कि वे कांग्रेस या भाजपा के बारे में आश्वस्त नहीं हैं। उन्होंने कहा कि हमें कोई चिंता नहीं कि आम आदमी पार्टी की सरकार रहेगी या नहीं रहेगी। हम यह मानकर सरकार चला रहे हैं कि हमारे पास सिर्फ 48 घंटे हैं। हम इतने समय में लोगों के लिए अधिकतम अच्छे काम करना चाहते हैं।

 उन्होंने कहा कि अगले कुछ दिनों में उनका स्वास्थ्य तो ठीक हो सकता है लेकिन ये महत्वपूर्ण घंटे उनको नहीं मिलेंगे। केजरीवाल ने आशंका जताई कि कांग्रेस और भाजपा मिलकर उनकी सरकार को गिरा सकते हैं। उनहोने कहा कि हमें नहीं मालूम कि भाजपा ने विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर पद को क्यों ठुकरा दिया जो सामान्य तौर पर सदन के सबसे वरिष्ठ सदस्य को बनाया जाता है।

मेरा मानना है कि इस बारे में पत्रकारों को उनसे पूछना चाहिए। साथ ही मुख्यमंत्री ने  घोषणा की कि उनकी पार्टी के विधायक एम. एस. धीर दिल्ली विधानसभा में अध्यक्ष के पद के लिए आप की तरफ से उम्मीदवार होंगे।दूसरी ओर, केजरीवाल के इस बयान को कांग्रेस ने पूरी तरह से खारिज कर दिया है।

वहीं कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी डॉ. शकील अहमद ने कहा कि यह बात उनकी समझ से बाहर है कि आखिर आप के नेता इस तरह की बात क्यों कर रहे हैं। कांग्रेस आगे भी आप को समर्थन करेगी। वहीं भाजपा ने भी केजरीवाल के सरकार गिरने की आशंका सम्बंधी बयान पर आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा है जब आप के नेता कांग्रेस के सहयोग से सरकार बना रहे हैं, तो फिर वह इस तरह की बातेें क्यों कर रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You