चव्हाण को नसीहत, गद्दी बचानी है तो आप की तरह काम करें

  • चव्हाण को नसीहत, गद्दी बचानी है तो आप की तरह काम करें
You Are HereNational
Thursday, January 02, 2014-4:24 AM

नागपुर: किसानों के बीच काम करने वाले एक एनजीओ ने बुधवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण से कहा कि यदि वे अगले चुनाव में अपनी सरकार को अपमानजनक पराजय से बचना चाहते हैं तो ‘दिल्ली सरकर की तरह काम करें।’ विदर्भ जन आंदोलन समिति (वीजेएएस) के अध्यक्ष किशोर तिवारी ने कहा कि हालांकि दिल्ली केवल 4000 करोड़ रुपये के बजट वाला एक छोटा सा राज्य है, इसके नए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने राज्य के गरीब लोगों को बिजली और पानी पर रियायत दी है।

तिवारी ने आईएएनएस से कहा, ‘‘इसके विपरीत महाराष्ट्र 160,000 करोड़ रुपये से ज्यादा का बजट वाला राज्य है और यह गरीब समुदाय, भुखमरी झेल रहे आदिवासियों और कर्ज में डूबे किसानों को इस तरह का लाभ नहीं दे रहा है।’’ केजरीवाल सरकार की सराहना करते हुए उन्होंने कहा, ‘नव-भूमंडलीकरण के पैरोकार पृथ्वीराज चव्हाण’ यदि अपनी सत्ताधारी लोकतांत्रिक मोर्चा की सरकार को अगले विधानसभा चुनाव में शर्मनाक पराजय से बचाना चाहते हैं तो उन्हें भी उसी तरह की रियायतें देनी चाहिए।

केजरीवाल की पहल को ‘लोकोन्मुखी’ करार देते हुए तिवारी ने कहा कि महाराष्ट्र एवं अन्य राज्यों में 1991 में नए मुक्त व्यापार युग के शुरू होने के बाद बिजली और पानी की आपूर्ति व्यापक रूप से निजी हाथों में सौंपी जा चुकी है। इसका पूरे देश भर में बड़े पैमाने पर विरोध हुआ है, क्योंकि निजी क्षेत्रों ने पानी और बिजली की आपूर्ति राजनीतिक परिदृश्य के हिसाब से किया और वे राजनीतिक दलों की सुविधा के हिसाब से कर रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You