मुजफ्फरनगर दंगे का मामला सत्र अदालत भेजा गया

  • मुजफ्फरनगर दंगे का मामला सत्र अदालत भेजा गया
You Are HereNational
Friday, January 03, 2014-8:06 AM

मुजफ्फरनगर: मुजफ्फरनगर की एक स्थानीय अदालत ने यहां कावल गांव में हुई दो युवकों की हत्या का मामला सत्र अदालत में स्थानांतरित कर दिया। मुजफ्फरनगर दंगों से जुड़ा यह पहला मामला है, जिसे उच्चतर अदालत भेजा गया हैइस मामले के आरोपियों पर हत्या का आरोप है, जिसमें उन्हें अधिकतम मौत की सजा तक हो सकती है और इसी वजह से मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट नरेंद्र कुमार ने इस मामले की सुनवाई सत्र न्यायालय को स्थानांतरित की है।

यहां 27 अगस्त को हुई सचिन और गौरव नामक दो युवकों की हत्या के मामले में विशेष जांच दल ने 27 नवंबर को पांच आरोपियों मुजस्सिम, मुजम्मिल, नदीम, जहांगीर और फुर्कान के खिलाफ आरोप पत्र दायर किए थे। गौरव और उसके मित्र सचिन ने कथित रूप से दो मोटरसाइकिलों के बीच हुई टक्कर के बाद कुरैशी नामक एक व्यक्ति की चाकू घोपकर हत्या कर दी थी। उसकी चीख पुकार सुनकर घटनास्थल पर एकत्र हुए स्थानीय लोगों ने इन दोनों की पीटपीट कर हत्या कर दी थी। इस संबंध में दोनों ही पक्षों ने मामले दर्ज कराए थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You