देश ने चाय बेचने वाले को कंधे पर बिठायाः मोदी

  • देश ने चाय बेचने वाले को कंधे पर बिठायाः मोदी
You Are HereNational
Sunday, January 05, 2014-7:26 PM

नई दिल्ली: योग गुरु बाबा रामदेव के भारत स्वाभिमान के स्थापना दिवस समारोह में भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने आज शिरकत की है। मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि इस चुनाव में सभी पुरानी परंपराएं टूटेंगी। उन्होंने कहा कि 2014 का चुनाव जन आंदोलन बन चुका है और इसमें बाबा रामदेव का अहम योगदान है।

उन्होंने कहा कि देश को आज स्वाभिमान की लड़ाई लड़नी पड़ रही है। एक चाय बेचने वाले को देश ने कंधे पर बिठा लिया है। मैने अपनी मां को पड़ोसियों के बर्तन साफ करते हुए देखा है। उन्होंने कहा कि मैं निराशावादी नहीं हूं। GSLV D-5 के सफल परीक्षण पर उन्होंने देश के वैज्ञानिकों को बधाई दी और कहा कि हमे अपने देश के वैज्ञानिकों पर गर्व है। कृषि के विकास पर बोलते हुए मोदी ने कहा कि देश में कृषि के विकास के लिए खेती को तीन हिस्सों मे विभाजित करना पड़ेगा। पहले भाग में फसल की खेती, दूसरे में पेड़ों की खेती और तीसरे में पशुपालन।

उन्होंने कहा कि जो दर्द और पीड़ा में पला है उसे समझने के लिए यात्रा की कोई जरुरत नहीं है। मोदी ने गुहार लगाई कि देश के नौजवान को अगर हुनर सिखा दिया जाए तो वह जीवन जी लेगा। गुजरात की चिकित्सा व्यवस्था के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि  उनके राज्य में आधुनिक चिकित्सा पर जोर दिया गया है। उन्होंने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार के चलते सोने की तस्करी और सोने की तस्करी ने ही अंडरवर्ल्ड को जन्म दिया। उन्होंने कहा कि सरकार के ध्यान मांस निर्यात पर है तथा देश में बालू की तस्करी भी होने लगी है। मोदी ने कहा कि हम पद के लिए पैदा नहीं हुए, कुछ करने के लिए पैदा हुए हैं और देश को वादे नहीं इरादे चाहिए।

रामदेव के प्रस्ताव पर बोलते हुए मोदी ने कहा कि देश के टैक्स सिस्टम को बदलने की जरूरत है और हम रामदेव और जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरेंगे। हमे अपने देश की परंपरा और अपनी भाषा पर गर्व होना चाहिए। इससे पहले कांग्रेस पर देश की लुटिया डूबो देने का आरोप लगाते हुए योगगुरू रामदेव ने आज कहा कि चुनाव से पहले ही देश ने नरेन्द्र मोदी को चुन लिया है और वे लोकतंत्र को लूटतंत्र में तब्दील होने से बचाएं। योगगुरू ने कई तरह के कर की व्यवस्था को समाप्त करने और एक कर की व्यवस्था तैयार करने की वकालत की।

दिल्ली के तलकटोरा स्टेडियम में रैली को संबोधित करते हुए योगगुरू ने कहा, कांग्रेस ने लोकतंत्र को बंधक बना लिया है। कांग्रेस ने देश की लुटिया डूबो दी है। मोदी लोकतंत्र को लूटतंत्र में तब्दील होने से बचाएं। उन्होंने मांग की कि मोदी देश की गलत आर्थिक नीतियों को दुरूस्त करने का आश्वासन दें। उन्होंने दावा किया कि चुनाव से पहले ही देश ने मोदी को चुन लिया है। ‘‘त्रेता में राम, द्वापर में कृष्ण और 2014 मोदी का है। मोदी कांग्रेस के लिए महाकाल है।’’

योगगुरू ने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी की उपस्थिति में कहा कि देश को मोदी से काफी उम्मीदें है और वे किसानों, कालेधन समेत हमारे मुद्दों पर क्या रूख अपनायेंगे यह बताएं। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर निशाना साधते हुए रामदेव ने कहा कि गलत आर्थिक नीतियों के कारण ही प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को कहना पड़ता है कि ‘मैं हिन्दुस्तान से गरीबी, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, महंगाई को खत्म नहीं कर सका। अगर प्रधानमंत्री इन बुराइयों को समाप्त नहीं कर सकते तो वहां क्यों बैठे हैं। जिनको देश चलाना आता है, उन्हें चलाने दें। अगर प्रधानमंत्री व्यवस्था को दुरूस्त नहीं कर सकते तो हमारे साथ प्रणायाम करें।

योगगुरू ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था बेहद बीमार हो गई है, निर्यात की स्थति काफी खराब है, नीतियों के बारे में कोई स्पष्टता नहीं है और कालेधन एवं भ्रष्टाचार के कारण स्थिति नाजुक हो गई है। रामदेव ने कहा, अगर देश से कालेधन की अर्थव्यवस्था को समाप्त कर दिया जाए तो हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था में कई लाख करोड़ रूपए का इजाफा हो जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You