आप से सहमी भाजपा, बदलेगी रणनीति

  • आप से सहमी भाजपा, बदलेगी रणनीति
You Are HereNcr
Sunday, January 05, 2014-1:27 PM

नई दिल्ली (धनंजय कुमार): दिल्ली विधानसभा चुनाव में अप्रत्याशित जीत से उत्साहित आम आदमी पार्टी की लोकसभा चुनाव के मैदान में भी ताल ठोकने की घोषणा से भाजपा पूरी तरह से सहम गई है। भाजपा नेताओं को अब यह डर सताने लगा है कि जिस तरह से दिल्ली में आप की आंधी चली है और हर दिन एक से एक हस्तियां आप के साथ आ रही हैं, उससे हमारे 272+  के सपनों पर पानी न फिर जाए। यही वजह है कि पार्टी नेता लोकसभा चुनाव के लिए अपनी रणनीतियों पर एक बार फिर से विचार कर रहे हैं।

ताकि चुनाव प्रचार के दौरान आप को बेहतर तरीके से घेरा जा सके। कुछ राज्यों में तो भाजपा, आप को वहां की क्षेत्रीय पार्टियों से भी ज्यादा चुनौती मान रही है इसमें दिल्ली, हरियाणा तथा उत्तर प्रदेश शामिल है। अब तक मोदी बनाम राहुल का भाजपा का मुकाबला मानकर लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटी भाजपा अब अरविंद केजरीवाल का नाम जोड़कर मुकाबला त्रिकाणीय मानकर चल रही है।

गौरतलब है कि दिल्ली में लोकसभा की 7, हरियाणा में 10 तथा उत्तर प्रदेश में 80 सीटें हैं और भाजपा की कोशिश है कि दिल्ली की सात में पांच लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की जाए। वहीं, हरियाणा में खाता खोलने के साथ उत्तर प्रदेश में 40-45 सीटों पर जीत दर्ज करने की योजना के साथ पार्टी काम कर रही है। गौरतलब  है कि दिल्ली, हरियाणा, पंजाब तथा उत्तराखंड को मिलाकर भाजपा के खाते में सिर्फ एक लोकसभा (पंजाब से नवजोत सिंह सिद्धू) सीट है। भाजपा यदि इन राज्यों में बेहतर प्रदर्शन करती है तो सत्ता की कुर्सी ज्यादा दूर नहीं रहेगी। पार्टी सूत्र बताते हैं कि जिस तरह से दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने जीत दर्ज की है इसका सीधा संदेश पड़ोसी राज्यों में भी गया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You