यातायात पुलिस के टीआई समेत 6 नपे

  • यातायात पुलिस के टीआई समेत 6 नपे
You Are HereNational
Sunday, January 05, 2014-6:05 PM

नई दिल्ली (कुमार गजेन्द्र): नई दिल्ली जिला में स्थित पंचतारा होटल के गेट पर बाधा पैदा करना यातायात पुलिस को मंहगा पड़ गया। दिल्ली पुलिस आयुक्त भीमसेन बस्सी के आदेश के बाद भी जब बाधा नहीं हटाई गई तो अधिकारियों ने इसे गंभीरता से लिया। अधिकारियों ने इस मामले में यातायात पुलिस के एक टी.आई. समेत आधा दर्जन  पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक बाराखम्बा रोड इलाके में महाराजा रणजीत सिंह फ्लाईओवर के नीचे होटल ललित मानसिंह है। बताया जाता है कि कुछ दिन से इस होटल के गेट पर कुछ काम चल रहा था, हालांकि इस काम के लिए एन.डी.एम.सी. व संबंधित विभागों की ओर से इजाजत नहीं दी गई थी। होटल में होने वाले इस वाटर ट्रिटमैंट प्लांट में चल रहे काम की वजह से सड़क को बंद कर दिया गया था।

इस काम के चलते सड़क पर उत्तर-प्रदेश नंबर के ट्रक भी आ जा रहे थे। इसके अलावा बैरिकेड लगाकर रास्ते को बंद कर दिया था, जिससे लोगों को बहुत परेशानी हो रही थी। सड़क पर हो रही इस असुविधा की शिकायत जिला पुलिस से भी की गई, लेकिन किसी ने भी इस शिकायत पर ध्यान नहीं दिया। किसी ने दिल्ली पुलिस आयुक्त भीमसेन बस्सी से यातायात पुलिस की इस मनमानी की शिकायत कर दी। पुलिस आयुक्त ने सारे मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस को जांच करने के आदेश दिए थे।

जांच में पाया गया था कि होटल के गेट पर यह बाधा खड़ी करवाने में वहां ड्यूटी कर रहे यातायात पुलिस के लोगों की साजिश है। सूचना मिलने के बाद पुलिस आयुक्त ने इस सर्किल में तैनात 5 पुलिस वालों को लाइन हाजिर कर दिया। इनकी पहचान संसद मार्ग सर्किल के टी.आई. शैलेन्द्र चौहान, ए.एस.आई. (जैडो) राजेन्द्र, सिपाही अमित, दिनेश, ओमबीर और सुशील के रूप में हुई है। देर रात तक इस मामले पर यातायात पुलिस का कोई भी अधिकारी बोलने के लिए तैयार नहीं था। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You