‘भारतीय सैनिकों के सिर तक काटे जा रहे हैं, केन्द्र सरकार मूकदर्शक बनी है’

  • ‘भारतीय सैनिकों के सिर तक काटे जा रहे हैं, केन्द्र सरकार मूकदर्शक बनी है’
You Are HereNational
Monday, January 06, 2014-8:47 AM

गाजियाबाद: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सांसद राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत के लिए केवल विकास की ही नही बल्कि स्वाभिमान की भी आवश्यकता है, जिससे भारत विश्वगुरु के रूप में उभरकर अपनी पृथक पहचान कायम कर सके। राजनाथ सिंह यहां एक पब्लिक स्कूल में आयोजित पं. मदन मोहन मालवीय व स्वामी विवेकानंद की जयंती समारोह पर आयोजित एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

 

उन्होंने कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि आजादी के 65 वर्ष बीत जाने के बाद भी बेरोजगारी, भ्रष्टाचार और भुखमरी जैसी गंभीर समस्याओं से जूझ रहा है जबकि संसाधनों की कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि पोखरण परीक्षण के दौरान फ्रांस, जर्मनी व चीन के साथ अन्य देशों द्वारा विरोध करने के बावजूद भी देश में महंगाई व बेरोजगारी को नियत्रित करके वाजपेयी ने देश को एक नई दिशा प्रदान की थी।

 

उन्होंने देश की सुरक्षा पर भी काग्रेस सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि आज देश की आंतरिक सुरक्षा खतरे में है और पड़ोसी देश बार-बार भारतीय सीमा में प्रवेश कर रहे हैं। इतना ही नहीं भारतीय सैनिकों के सिर तक काटे जा रहे हैं और केन्द्र सरकार मूकदर्शक बनी हुई है।

 

उन्होंने प्रदेश सरकार पर भी निशाना साधते हुए कहा कि गन्ना मिल मालिक प्रदेश सरकार से सांठगाठ कर मिल चलाने को तैयार नही है और किसानों को बकाया भुगतान दिलाने को लेकर कोई प्रयास नही किए गए जबकि भाजपा के शासन काल में तत्कालीन कृषि मंत्री होने के नाते उन्होंने किसानों के बकाया भुगतान जल्द से जल्द कराने का प्रयास किया। इस दौरान सिंह ने एक बार फिर जनता से भाजपा को वोट देकर नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने की अपील की।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You