Subscribe Now!

शिक्षा विभाग भी जमा करेगा ईडब्लूएस कोटे के फॉर्म

  • शिक्षा विभाग भी जमा करेगा ईडब्लूएस कोटे के फॉर्म
You Are HereNational
Monday, January 06, 2014-2:17 PM

नई दिल्ली (रोहित राय): आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्लूएस) कोटे के अभिभावकों की सुविधा के लिए शिक्षा निदेशालय ने एक पहल की है। शैक्षणिक सत्र 2014-15 के लिए शुरू होने वाली नर्सरी दाखिला प्रक्रिया के दौरान ईडब्लूएस कोटे के अभिभावक उपनिदेशक शिक्षा के कार्यालयों में भी अपने बच्चे का दाखिला फॉर्म जमा करा सकेंगे।

इस तरह की सुविधा को शुरू करने के पीछे निदेशालय का तर्क है कि हर साल दाखिला प्रक्रिया के दौरान अभिभावकों की ओर से शिकायतें मिलती है कि कुछ निजी स्कूल फॉर्म जमा करने से मना कर देते हैं। ऐसी स्थिति में अभिभावकों की परेशानी बढ़ जाती है और समय निकल जाने के बाद उनके बच्चे का फॉर्म जमा नहीं हो पाता।

उपनिदेशक शिक्षा के पास फॉर्म जमा कराने के बाद फॉर्म की जांच-पड़ताल कर उसे स्कूल में जमा करने की जिम्मेदारी उपनिदेशक शिक्षा की ही होगी। पिछले साल नर्सरी दाखिले के दौरान अधिकांश स्कूलों ने ईडब्लूएस कोटे के अभिावकों द्वारा फॉर्म स्वीकार नहीं किए थे और उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया था। पिछले साल की तरह ही इस बार भी सामान्य श्रेणी और ईडब्लूएस कोटे के अभिभावकों के लिए कॉमन दाखिला फॉर्म जारी किए जाएंगे।

यह फॉर्म शिक्षा निदेशालय की वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकेगा।इसके अलावा यह फॉर्म राजधानी के सभी निजी स्कूलों में मान्य होगा और किसी भी स्कूल में जमा हो सकेगा। स्कूल प्रबंधन इस फॉर्म को जमा करने से इंकार नहीें कर सकते। ऐसा करने वाले स्कूलों के खिलाफ शिकायत मिलने पर निदेशालय सख्त कार्रवाई करेगा।

निदेशालय के अनुसार अगर कोई स्कूल फॉर्म देने और स्वीकार करने में कोई परेशानी खड़ी करता है तो अभिभावक उस स्कूल के खिलाफ निदेशालय और क्षेत्रीय उपनिदेशक शिक्षा के पास भी लिखित शिकायत दर्ज करा सकता है। साथ ही निदेशालय की वेबसाइट पर भी अभिभावक स्कूल का नाम लिखकर अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगे। निजी स्कूलों में नर्सरी कक्षा में ईडब्लूएस कोटे के लिए 25 फीसदी सीटें आरक्षित रखी गई है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You