'देख ले तू देखते हुए कैसा लगता है'

  • 'देख ले तू देखते हुए कैसा लगता है'
You Are HereNational
Monday, January 06, 2014-4:47 PM

नई दिल्ली: सभ्य समाज वह होता है जहां स्त्रियों का सम्मान किया जाता है। जो समाज स्त्रियों का सम्मान नहीं करता, वह सभ्य कतई नहीं माना जा सकता। पिछले कुछ समय से बलात्कार की बढ़ रही घटनाओं ने मानवता को शर्मसार कर दिया है। हाल ही में गूगल पर अपलोड हुए एक वीडियो  में महिलाओं की ओर गंदी नजर से देखने वाले मर्दों को आईना दिखाया गया है।

पुरूष अक्सर महिलाओं और लड़कियों को इस तरह से घूरते हैं या टकटकी लगाए उनकी ओर देखते रहते हैं, जैसे वे कोई देखने की चीज़ हों। सरे राह कहीं पर भी, कभी भी पुरुष महिलाओं को इस तरह घूरते हैं मानों उन्होंने कभी कोई लड़की पहले देखी ही न हो और उन्हें पहली बार किसी लड़की को देखने का मौका मिल रहा हो। पुरुष तो यह भी अनुमान नहीं लगा सकते होंगे कि उन्‍होंने दिन भर में कितनी लड़कियों को घूरा या छेड़ा है। लेकिन वहीं जब एक महिला दिन भर हुई इन सब हरकतों के बारे में सोचती हुई कितनी घिन्न महसूस करती है इसका तो शायद वो पुरुष अनुमान भी नहीं लगा सकते।

वहीं दूसरी तरफ इस अभियान के तहत यूट्यूब पर एक वीडियो अपलोड किया गया है, जिसके जरिए संदेश दिया गया है 'देख ले तू देखते हुए कैसा लगता है'। यह वीडियो पुरुषों को उनके घूरने को लेकर सजग करता है। इसे फिल्‍म इंस्‍टीट्यूट व्हिस्लिंग वुड्स ने प्रोड्यूस किया है। वीडियो की शुरुआत में दिखाया गया है कि बाइक सवार दो पुरुष स्‍कूटी पर बैठी हुई लड़की की जांघों को घूर रहे हैं।

इसके बाद एक बस का सीन दिखाया गया है, जहां एक महिला अपनी साथी महिला के कंधे पर सिर रखकर सो रही है और पास में ही खड़े तीन पुरुष उसके क्‍लीवेज को घूर रहे हैं। इसके बाद दिखाया गया है कि किस तरह ये सभी महिलाएं घूरने वाले पुरुषों को एक अलग ही अंदाज में जवाब देती हैं और उन्हें उनका वो घिनौना चेहरा दिखाती हैं। सोना महापात्रा ने विज्ञापन के गाने 'देख ले तू देखते हुए कैसा लगता है', को अपनी आवाज दी है, जबकि म्‍यूजिक रामसंपत का है। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You