कश्मीर पर अटपटे बयान नहीं देना चाहिए: मनीष तिवारी

  • कश्मीर पर अटपटे बयान नहीं देना चाहिए: मनीष तिवारी
You Are HereNational
Monday, January 06, 2014-5:24 PM

नई दिल्ली: सूचना और प्रसारण मंत्री और कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कश्मीर के बारे में आम आदमी पार्टी (आप) के नेता प्रशांत भूषण के बयान की कडी आलोचना करते हुए कहा कि जिम्मेदार व्यक्तियों को इस तरह के अटपटे बयान नहीं देना चाहिए। तिवारी ने आज यहां कहा कि जम्मू कश्मीर का मसला देश की आतंरिक सुरक्षा, एकता और अखंडता तथा संप्रभुता से जुडा एक अहम और संवेदनशील मुद्दा है। इस संबंध में कोई भी बयान पूरी जिम्मेदारी और सोचसमझ कर दिया जाना चाहिए।

उन्होंने भूषण के बयान पर कहा कि जिम्मेदार व्यक्तियों को इस तरह के अटपटे बयान नहीं देना चाहिए जिनसे धुंधला संदेश जाता है। उल्लेखनीय है कि भूषण ने कल रात एक टीवी चैनल पर कहा था कि कश्मीर में सेना की तैनाती के बारे में वहां की जनता की राय ली जानी चाहिए। उनकी पार्टी ने इस बयान से किनारा कर लिया है। आप के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वह इस बयान से सहमत नहीं है।

माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता सीता राम येचुरी ने भी भूषण के बयान की आलोचना की है और कहा कि राष्ट्र की सुरक्षा से जुडे मसलों पर फैसला सरकार पर छोडा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा से जुडी जानकारी केंद्र और राज्य सरकार के पास होती है अन्य लोगोंं के पास नहीं, जो बाजिव भी है। इसलिए ऐसे फैसले सरकार को करने देना चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You