डेविड हेडली व अन्य के खिलाफ नया गैरजमानती वारंट जारी

  • डेविड हेडली व अन्य के खिलाफ नया गैरजमानती वारंट जारी
You Are HereNational
Monday, January 06, 2014-9:55 PM

नई दिल्ली : दिल्ली की एक अदालत ने यहां आतंकी हमलों के आरोपी पाकिस्तानी, अमेरिकी नागरिक डेविड कोलमैन हेडली, उसके साथी लश्कर ए तैयबा के संस्थापक हाफिज सईद और मुंबई हमले के षडयंत्रकर्ता जकी उर रहमान लखवी के खिलाफ नया गैर जमानती वारंट जारी किया है।

सूत्रों के अनुसार, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने अदालत को सूचित किया कि आरोपी अब भी फरार है और उनके खिलाफ पहले जारी किए गए वारंटों पर अब तक कार्रवाई नहीं हो सकी जिसके बाद जिला न्यायाधीश आईएस मेहता ने नौ लोगों के खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी कर दिया।

हेडली, राणा, सईद और लखवी के अलावा पाकिस्तानी सेना के अधिकारियों मेजर इकबाल और मेजर समीर अली, अलकायदा के शीर्ष नेता इलियास कश्मीरी, हेडली के आका साजिद मलिक और पाकिस्तानी सेना के पूर्व अधिकारी अब्दुल रहमान हाशमी के खिलाफ वारंट जारी किए गए।

एनआईए ने दिसंबर 2011 में इन नौ आरोपियों को भारत में आतंकवादी क्रियाकलापों के लिए प्रतिबंधित आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा और हुजी के सदस्यों के साथ कथित रूप से साजिश रचने के मामले में आरोप पत्र में आरोपित किया था।

एनआईए ने 24 दिसंबर 2011 को अपने आरोपपत्र में हेडली, राणा, सईद और छह अन्य पर मुंबई आतंकी हमले सहित भारत में आतंकवादी घटनाओं की योजना और इसे अंजाम देने का आरोप लगाया था।

एनआईए ने अदालत से कहा था कि हेडली मुंबई आतंकी हमले से पहले भारत में कई स्थानों की टोह ली थी और वह कई बार पाकिस्तान भी गया था जहां उसने पाकिस्तानी सेना के अधिकारी मेजर इकबाल से मुलाकात की थी।

जांच एजेंसी ने शुरूआत में हेडली और राणा के खिलाफ मामला दर्ज किया था लेकिन पूरी जांच के बाद, सात अन्य लोगों को भी इस मामले में आरोपी बनाया गया।

 केन्द्रीय एजेंसियों द्वारा जांच के दो साल बाद दायर आरोपपत्र में 134 गवाहों के बयान, 210 दस्तावेज और 106 ईमेल शामिल हैं। हेडली और राणा फिलहाल अमेरिकी अधिकारियों की हिरासत में हैं और एनआईए को हेडली तक केवल सीमित पहुंच हासिल हुई है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You