दिल्ली जल बोर्ड के तीन कर्मचारी निलंबित, 800 का स्थानांतरण

  • दिल्ली जल बोर्ड के तीन कर्मचारी निलंबित, 800 का स्थानांतरण
You Are HereNational
Tuesday, January 07, 2014-12:19 AM

नई दिल्ली: एक निजी टीवी चैनल के स्टिंग ऑपरेशन में कथित तौर पर रिश्वत लेते हुए दिखाए जाने के बाद दिल्ली जल बोर्ड के तीन कर्मचारियों को आज निलंबित कर दिया गया। शिक्षा एवं पीडब्ल्यूडी मंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि मुख्य जल विश्लेषक विनोद कुमार, पटवारी सुनील कुमार और मीटर रीडर अतुल प्रकाश को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा जारी आदेश के तहत निलंबित कर दिया गया। उन्होंने कहा कि जो कोई भी किसी भी तरह के भ्रष्टाचार में लिप्त पाया जाएगा उसे बख्शा नहीं जाएगा।

दूसरी तरफ जलापूर्ति व्यवस्था एवं सेवा को बेहतर बनाने की कवायद के तहत दिल्ली में ‘आप’ की सरकार ने आज दिल्ली जल बोर्ड (डीजेबी) में व्यापक फेरबदल करते हुए करीब 800 अधिकारियों का स्थानांतरण कर दिया। सूत्रों ने बताया कि अधिकारियों का स्थानांतरण मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर हुआ है जो जल बोर्ड के अध्यक्ष भी हैं।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने दिल्ली जल बोर्ड के सेवा आपूर्ति तंत्र को दुरूस्त बनाने के लिए विशिष्ट निर्देश जारी किये थे और इसी के आलोक में ये तबादले किए गए हैं। अधिकारियों ने कहा, ‘‘ सेवा प्रदान करने की व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए आज 800 अधिकारियों के स्थानांतरण का आदेश दिया गया।’’ डीजेबी में स्थानांतरण की पहल 28 दिसंबर को केजरीवाल के मुख्यमंत्री बनने के पश्चात दिल्ली जल बोर्ड के सीईओ देबाशीष मुखर्जी को हटाए जाने के 10 दिन बाद सामने आई है।

डीजेबी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘ वैसे सभी अधिकारी जो पिछले तीन वर्षो से एक ही स्थान पर काम कर रहे थे, उनका स्थानांतरण कर दिया गया है।’’ दिल्ली जल बोर्ड के अधिकारियों का स्थानांतरण का आदेश उसी दिन दिया गया है जिस दिन एक टीवी चैनल के स्टिंग आपरेशन में डीजेबी के तीन अधिकारियों को रिश्वत लेते हुए दिखाने जाने के बाद निलंबित कर दिया गया। हालांकि वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि स्थानांतरण कामकाज को बेहतर बनाने के लिए किया गया है।

डीजेबी के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘ लोक उपयोग की सेवा को बेहतर बनाने के मकसद से इस दिशा में सतत प्रयास के तहत पहल की जा रही है। दिल्ली जल बोर्ड लगातार सेवाओं एवं व्यवस्था को नियोजित बनाने की दिशा में काम कर रहा है।’’ सूत्रों ने कहा कि पानी का समान बंटवारा सरकार की प्राथमिकता है तथा जल आपूर्ति प्रणाली को दुरूस्त बनाने के लिए और कदम उठाये जायेंगे। नगर में टैंकर माफिया के खिलाफ कार्रवाई पर विशेष ध्यान दिया जायेगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You