अस्पताल ने कचरे के डिब्बे में फेंक दिया बच्ची का शव!

You Are HereNational
Tuesday, January 07, 2014-2:53 PM

नई दिल्ली: यहां स्थित माता चानन देवी अस्पताल परिसर के बाहर खड़े एक जैविक कचरे के ट्रक में आज एक नवजात बच्ची का शव मिला। माना जाता है कि इस शव को माता चानन देवी अस्पताल के शवगृह में संरक्षित किया गया था। बाद में दिल्ली सरकार ने इस मामले में जांच के आदेश दे दिए। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। यह पूरी तरह से गलत है। यह मानवता के खिलाफ है और मैंने इस मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं।’’

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने अस्पताल को नोटिस जारी कर 24 घंटे में जवाब मांगा है। उन्होंने कहा है कि इस मामले में सख्त कार्रवाई होगी। पीड़ित घरवालों ने जनकपुरी के माता चन्नन देवी अस्पताल पर लापरवाही का आरोप लगाया है। पीड़ित घरवालों के मुताबिक उनकी बच्ची का जन्म जनकपुरी के खन्ना नर्सिंग होम में सोमवार रात डेढ़ बजे हुआ था। लेकिन तबीयत बिगड़ने की वजह से उसे माता चन्नन देवी अस्पताल रेफर कर दिया गया। जहां देर रात करीब ढाई बजे नर्सरी में बच्ची की मौत हो गई। इसके बाद परिवारवालों ने बच्ची का शव मॉर्चरी में रखने को कहा और इसके लिए बतौर फीस डेढ़ हजार रुपए भी दिए।

बच्ची के पिता राजेश कुमार ने बताया कि सुबह करीब 10 बजे जब परिवार मॉर्चरी पहुंचा तो वहां स्टाफ ने बताया कि शव वहां नहीं है। खोजबीन के बाद पता चला कि बच्ची का शव बायो-मेडिकल कूड़ा ले जाने वाली गाड़ी में पड़ा है। पीड़ित घरवालों ने इसकी शिकायत पुलिस में की। पुलिस ने इस मामले में अस्पताल के कर्मचारियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए दीन दयाल अस्पताल भेज दिया।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You