उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा उपराज्यपाल का अभिभाषण

  • उम्मीदों पर खरा नहीं उतरा उपराज्यपाल का अभिभाषण
You Are HereNcr
Tuesday, January 07, 2014-12:56 PM

नई दिल्ली (धनंजय कुमार): महज डेढ़ वर्ष पुरानी आम आदमी पार्टी का नौसिखियापन सोमवार को उपराज्यपाल नजीब जंग के भाषण में साफ देखने को मिला। दिल्ली विधानसभा के अंतिम दिन उपराज्यपाल जब सदन को संबोधित करने आए तो सभी राजनीतिक पार्टियों को ही नहीं, करीब 2 करोड़ की आबादी वाली दिल्ली को भी काफी अपेक्षाएं थीं क्योंकि उपराज्यपाल के भाषण में सरकार की पूरी मंशा होती है।

अगले एक वर्ष में सरकार अपनी कौन सी योजना को कितनी प्राथमिकता और कितने समय में करना चाहती है, इसका पूरा विवरण होता है, लेकिन जंग का भाषण महज 10 मिनट (दिन के 11:03 बजे शुरू और 11:13 बजे समाप्त) में समाप्त हो गया, जो कि दिल्ली विधानसभा के इतिहास में सबसे कम वक्त में संपन्न होने वाला भाषण था।

अबतक के उपराज्यपाल को कम से कम 35-40 मिनट का वक्त लग जाता था क्योंकि इस भाषण को सरकारी पत्र माना जाता था जिसमें सरकारी योजनाओं को पूरी गहराई व विस्तार से बताया जाता था। यही वजह है कि जंग के इस भाषण को कांग्रेस पार्टी व भाजपा सभी ने निराशावादी करार देते हुए जनता की आशाओं पर कुठाराघात बताया है।

सोमवार को उपराज्यपाल नजीब जंग ने जब भाषण शुरू किया तो उसमें आप के सभी 18 मुद्दों का जिक्र तो था, लेकिन उसे पूरा करने का कोई रोडमैप नहीं बताया गया था। जंग ने बिजली कंपनियों के खातों की जांच सी.ए.जी. से कराने से लेकर दिल्ली की अनधिकृत कालोनियों को अगले एक वर्ष में अधिकृत करने का भी जिक्र किया। साथ ही भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने व लोगों को पूरी सुविधाएं देने की बात भी की गई, लेकिन इसे कैसे और कितने समय के अंदर पूरा किया जाएगा, इसका कोई जिक्र नहीं था, जबकि अब तक के भाषण में सारी योजनाओं का जिक्र टाइम लाइन के साथ किया जाता था।

तभी आप को समर्थन देने वाली कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली ने कहा कि इस भाषण में सरकार का कोई दृष्टिकोण नहीं दिखा। वहीं भाजपा विधायक दल के नेता डॉ. हर्षवर्धन ने सरकार पर भ्रष्टाचारियों को बचाने का आरोप लगाते हुए इसे जन की आशाओं पर कुठाराघात बताया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You