मुलायम की हिदायत के बाद भी नहीं थम रही सपा नेताओं की गुण्डागर्दी

  • मुलायम की हिदायत के बाद भी नहीं थम रही सपा नेताओं की गुण्डागर्दी
You Are HereNational
Tuesday, January 07, 2014-12:56 PM

कासगंज: उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) के नेताओं की गुंडई इस कदर हावी है कि पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव की नसीहतों का भी कोई असर नहीं हो रहा है और ताजा मामले में कासगंज जिले में सपा की पटियाली से महिला ब्लाक प्रमुख अशर्फी देवी ने अपनी ही पार्टी की विधायक नजीबा खान उर्फ जीनत खान आदि पर जमीन पर कब्जा करने की कोशिश और धमकी देने का आरोप लगाया है। सूत्रों के अनुसार मामला सपा महिला विधायक से जुड़ा होने के कारण पुलिस ने अभी तक रिपोर्ट दर्ज नहीं की है और न ही कोई पुलिस अधिकारी इस मामले में खुलकर बोलने को तैयार है। उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले की पटियाली विधानसभा से समाजवादी पार्टी की विधायक नजीबा खान उर्फ जीनत खान और उनकी बेटी नाशी खान उर्फ फेरी खान पर पटियाली की ही सपा ब्लाक प्रमुख अशर्फी देवी ने जमीन पर कब्जा करने की कोशिश करने, लूटपाट और हत्या की धमकी का गम्भीर आरोप लगाया है।

अशर्फी देवी ने कासगंज के पुलिस अधीक्षक विनय यादव को दी गयी तहरीर में सपा विधायक जीनत खान पर आरोप लगाया कि अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर उसने दो बेटो विनोद, राजेश और दामाद राजपाल सहित 67 अज्ञात लोगों पर पटियाली कोतवाली में आईपीसी की धारा 147, 448, 323, 504, 506, 392 के तहत झूठा मुकदमा दर्ज करवा दिया है। अशर्फी देवी की इस तहरीर से कासगंज पुलिस में हडकम्प मचा हुआ है और मामला एक सत्ताधारी विधायक से जुड़ा होने के कारण पुलिस रिपोर्ट दर्ज करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही है जबकि सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने हाल ही में मंत्रियों, विधायकों और सपा नेताओं की गुंडागर्दी पर लगाम लगाने और कडी कार्रवाई करने की नसीहत  प्रदेश सरकार को दी थी लेकिन नसीहत का असर दिखाई नहीं दे रहा है। गौरतलब है कि हाल ही सपा नेताओं एवं कार्यकर्ताओं पर फ्जैाबाद और कानपुर में टोल प्लाजा पर की गई मारपीट के आरोप में मुकदमें दर्ज किए गये हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You