इतालवी नौसैनिकों की याचिका पर एनआईए का विरोध

  • इतालवी नौसैनिकों की याचिका पर एनआईए का विरोध
You Are HereNational
Wednesday, January 08, 2014-11:41 PM

नई दिल्लीः राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने बुधवार को दो इतालवी नौसैनिकों द्वारा न्यायालय में व्यक्तिगत पेशी से छूट दिए जाने की याचिका का विरोध किया। दो भारतीय मछुआरों की 2012 में हत्या के आरोपी इतालवी नौसैनिकों ने बुधवार को न्यायालय में याचिका दायर कर आरोपपत्र दाखिल न होने के आधार पर न्यायालय से व्यक्तिगत पेशी से छूट दिए जाने की मांग की।

मेस्सिमिलानो लाटोरे और सल्वाटोरे जिरोने को 2012 के फरवरी में केरल के समुद्री इलाके में दो भारतीय मछुआरों की हत्या करने और उनकी नाव समुद्री लुटेरा मानकर ले लिए जाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था। दोनों इतालवी नौसैनिक मुकदमा लंबित चलने के कारण इस समय जमानत पर हैं, तथा नई दिल्ली स्थित इतालवी दूतावास में रह रहे हैं।

एनआईए की तरफ से न्यायालय के समक्ष उपस्थित हुए अतिरिक्त महाधिवक्ता सिद्धार्थ लूथरा ने अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेश शर्मा से कहा कि इस मामले में आरोपपत्र दाखिल न होने के आधार पर व्यक्तिगत तौर पर अदालत में पेशी से छूट नहीं दी जा सकती। अदालत ने हालांकि दोनों इतालवी नौसैनिकों की याचिका स्वीकार कर ली तथा मामले की सुनवाई 30 जनवरी तक के लिए स्थगित कर दी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You