हर शनिवार को दिल्ली सचिवालय के बाहर जनता दरबार: केजरीवाल

You Are HereNational
Friday, January 10, 2014-2:21 AM

नई दिल्लीः दिल्ली के लोगों की शिकायतों को सुनने और मौके पर ही दूर करने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनके सभी मंत्री हर शनिवार को दिल्ली सचिवालय के बाहर सुबह 9:30 से 11.30 बजे से जनता दरबार लगाया करेंग। केजरीवाल ने आज संवाददाता सम्मेलन में इसकी घोषणा की।

उन्होंने कहा कि इसके अलावा रोजाना एक मंत्री उक्त समय पर सभी मंत्रालयों से जुड़ी शिकायतों को सुनने के लिए जनता से दिल्ली सचिवालय के बाहर मिला करेंगे। उन्होंने कहा कि जनता दरबार में मिलने वाली जरुरी शिकायतों को मौके पर ही निपटाने के लिए संबंधित विभाग को फोन कर इसे दूर करने के लिए कहा जाएगा। अन्य शिकायतों को भी एक समय सीमा के भीतर निपटाने का तंत्र स्थापित किया जाएगा। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिकायतों का समाधान हुआ है अथवा नहीं इसकी निगरानी के लिए भी एक तंत्र स्थापित किया जाएगा। शिकायतकर्ता को एसएमएस भेजा जाएगा और उससे यह जानकारी मांगी जाएगी कि जिम्मेदार अधिकारी ने उसकी शिकायत के समाधान के लिए जो कदम उठाया है उससे वह संतुष्ट है अथवा नहीं।  आम आदमी पार्टी (आप) के स्वयंसेवक काल्स का फालोअप करेंगे।

भ्रष्टाचार से निपटने के लिए कल शुरू की गई हेल्पलाइन के बारे में जानकारी देते हुए केजरीवाल ने कहा कि पहले दिन राजधानी की जनता ने बहुत उत्साह के साथ अपनी शिकायतों के बारे में जानकारी दी? पहले दिन के सात घंटे में ही करीब चार हजार शिकायतें मिली। इनमें से 800 को लिया गया और 38 लोग भ्रष्टाचार के खिलाफ स्टिंग करने के लिए तैयार भी हो गए।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि हमने यह सुनिश्चित करने का प्रयास किया है कि कोई भी भ्रष्टाचार अधिकारी इन काल सेंटरों के संपर्क में नहीं आने पाए जिससे कि यह प्रणाली पारदर्शी बनी रहे। उन्होंने कहा कि जनवरी के आखिरी सप्ताह तक मजबूत लोकायुक्त कानून को पारित करने का प्रयास किया जाएगा।

दिल्ली में कई-कई घंटों की बिजली कटौती के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि गैर निर्धारित बिजली कटौती के लिए कंपनियों को जिम्मेदार ठहराया जाएगा। बिजली विभाग को कह दिया गया है कि वह निर्धारित और गैर निर्धारित बिजली कटौती की जानकारी रखे।

उन्होंने कहा कि ऐसी जगह जहां पानी की पाइप लाइन नहीं है सरकार ने यह सुनिश्चित किया है कि टैंकर चिन्हित स्थान पर समय से पहुंचे।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You