इंटरनेट पर हुर्इ दोस्ती का अंत हुआ दर्दनाक

  • इंटरनेट पर हुर्इ दोस्ती का अंत हुआ दर्दनाक
You Are HereNational
Friday, January 10, 2014-1:51 PM

नर्इ दिल्ली: फेसबुक से जहां आप पूरी दुनिया से जुड़ सकते हैं, वहीं दूसरी ओर फेसबुक के जरिये हुई दोस्ती खतरनाक रूप लेती नजर आ रही है। ऐसा ही एक मामला दिल्ली में सामने आया है। बताया जा रहा है कि सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर एक नौजवान पॉलिटिशयन ने  एक लड़की के  प्रोफाइल को देखकर उसे फ्रैंड रिक्वेस्ट भेजी।

बीते साल 8 नवंबर को शुरू हुई इस चैटिंग से सबसे पहले दोस्ती हुई, दोस्ती प्यार में बदली और देखते ही देखते टेलीफोन पर बातचीत शुरू हुर्इ। फिर प्यार के बाद बात रिश्ते तक जा पहुंची। एक दिन अचानक लड़के ने  अपनी फेसबुक दोस्त से मिलने की फरमाइश रखी। पहले तो लड़की तैयार नहीं हुर्इ, लेकिन लड़के की जिद पर लड़की अपने दोस्त को एक सरप्राइज देने के लिए  दिल्‍ली के एक मशहूर होटल में मिलने के लिए बुलाती है।

लड़के के आने पर लड़की उसका स्वागत बेहद खूबसूरत तरीक्के से करती है और फिर बातचीत के बाद दोनों एक-दूसरे के करीब आने लगते हैं और अचानक कमरे का दरवाजा खोल कर तीन लोग एक लड़की समेत कमरे में दाखिल हो गए। सभी लोगों ने खुद को पत्रकार बताते हुए लड़के से उसका वीडियो रिकॉर्ड कर लेने की बात कही। लड़के के सामने गर्लफ्रैंड की सूरत में फेसबुक पर उससे मिली इस लड़की का सच सामने आया। बताया जा रहा है कि  ये कोई आम लड़की नहीं थी वह एक ऐसी शातिर हाउस वाइफ थी, जिसने अपने तीन और दोस्तों के साथ मिलकर ये साजिश रची थी।

लड़का किसी तरह इस गिरोह के चंगुल से छूटना चाहता था। लड़के को डराया धमकाया गया, लेकिन फिर जल्द ही बात सौदेबाजी पर आ गई। पहले तो बात लाखों से शुरू हुई और फिर कार तक आ गई। जान बचाने के लिए उसने अपनी ब्रैंड न्यू कार गिरोह के हवाले कर दी। इतना ही नहीं एक एटीएम तक चल कर उसने हजारों रुपए भी निकाल कर उनके हवाले कर दिए।

लड़के ने बदनामी से बचने के लिए दिल्ली पुलिस को अपनी कार चोरी हो जाने की रिपोर्ट दर्ज करवार्इ। लेकिन पुलिस ने उसके हाव-भाव देखते  हुए इस मामले की जांच पड़ताल उसी के ही मोबाइल के कॉल डिटेल से शुरू की। पुलिस ने नोएडा और आस-पास के इलाके में कार की तलाश शुरू कर कार के साथ एक शख्स को एनसीआर के इलाके में ही पकड़ लिया। इस गिरफ्तारी के बाद पुलिस के सामने हुस्न और ब्लैकमेलिंग के इस पूरे नेटवर्क का पर्दाफाश हो गया। पुलिस का  इस मामले में कहना है कि गर्लफ्रैंड बन कर नेताजी को फांसनेवाली सुमन के अलावा उसकी दोस्त शालिनी और मनोज को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि साजिश में शामिल एक और पत्रकार कानून की गिरफ्त से बाहर है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You