दहशत का पर्याय बनी आदमखोर बाघिन फिलहाल पकड़ से दूर

  • दहशत का पर्याय बनी आदमखोर बाघिन फिलहाल पकड़ से दूर
You Are HereNational
Friday, January 10, 2014-2:14 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद और आसपास के जिलों में पांच लोगों का शिकार कर चुकी आदमखोर बाघिन इलाके में दहशत का पर्याय बनी हुई है। वहीं, कांबिंग ऑपरेशन में लगे वन विभाग के अधिकारियों को अभी उसका सुराग तक नहीं लगा है। विभाग की ओर से अब उसे गोली मारने के आदेश जारी किए गए हैं।

कहा जा रहा है कि बाघिन फिलहाल मुरादाबाद से सीमा पार कर बिजनौर में प्रवेश कर चुकी है। मुरादाबाद के प्रभागीय वन अधिकारी(डीएफओ)बी.सी. ब्रह्मा ने शुक्रवार को आईएएनएस को बताया कि आज बाघिन के पैरों के निशान बिजनौर जिले के स्योहरा इलाके में देखे गए हैं। वन विभाग की टीमें लगातार कांबिंग कर रही हैं। कांबिंग ऑपरेशन में हाथियों और जेसीबी मशीन की भी मदद ली जा रही है।

वन विभाग के अधिकारी पहले इसे बाघ बता रहे थे, लेकिन अब इसके बाघिन होने की बात कह रहे हैं। करीब दस दिन पहले मुरादाबाद के बहजोई में पहला शिकार करने वाली यह बाघिन अब तक दो महिलाओं सहित पांच लोगों का शिकार कर चुकी है। प्रमुख वन संरक्षक (वन्यजीव) रूपक डे ने बताया कि मुरादाबाद के वन अधिकारियों की सिफारिश पर बाघिन को आदमखोर घोषित कर दिया गया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You