अखिलेश यादव की सफाई, कहा- दंगा पीड़ितों के लिए जो किया उस पर गर्व

  • अखिलेश यादव की सफाई, कहा- दंगा पीड़ितों के लिए जो किया उस पर गर्व
You Are HereNational
Friday, January 10, 2014-4:34 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मुजफ्फरनगर दंगों की विभीषिका के बीच अपने पैतृक गांव सैफई में महोत्सव आयोजित किये जाने की आलोचना के लिये मीडिया पर बरसते हुए आज कहा कि वह महोत्सव प्रदेश में पर्यटन और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिये आयोजित किया जाता है और इस पर 300 करोड़ रुपए खर्च होने सम्बन्धी खबर लिखने वाले लोगों को माफी मांगनी चाहिये। मुख्यमंत्री ने गत आठ जनवरी को सैफई महोत्सव के समापन अवसर पर फिल्मों सितारों की चकाचौंध भरी शाम के आयोजन को लेकर मीडिया में खिंचाई के बाद आज दोपहर बुलाये गये संवाददाता सम्मेलन में मीडिया को ही कठघरे में खड़ा किया।

उन्होंने मीडिया द्वारा महोत्सव में आये फिल्मी कलाकारों से मुजफ्फरनगर दंगों के बारे में सवाल पूछे जाने पर भी नाराजगी जाहिर की।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सैफई महोत्सव का आयोजन वहां की मेला कमेटी, स्थानीय नवजवान और अन्य लोग मिलजुलकर करते हैं। इसका उद्देश्य अपनी संस्कृति को आगे बढ़ाना, युवा कलाकारों को नया मंच देना और छोटे व्यापारियों को सुविधाएं देना है। इस आयोजन पर कभी छह-सात करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च नहीं हुए।

अखिलेश ने कहा ‘‘जानबूझकर कहा गया कि सैंफई महोत्सव पर 300 करोड़ रुपए का बजट रखा गया। जो लोग 300 करोड़ रुपए का दावा करके लिख रहे हैं, वे माफी मांगे नहीं तो हिसाब-किताब दें। जिस व्यक्ति ने यह कहानी या खबर बनायी उसको सजा दें। महोत्सव में हमारी कमेटी है जो हिसाब-किताब रखती है। हम लोगों को संघर्ष के लिये मजबूर ना करें।’’

अखिलेश ने कहा इस महोत्सव में ज्यादा से ज्यादा 7-8 करोड़ रुपये खर्च हुए है। वहीं उन्होंने मीडिया पर निशाना साधते हुए कहा कि पत्रकार तो खुद वहां ऑटोग्राफ लेने के मूड में थे। पास नहीं मिलने से पत्रकार नाराज हो गए है। उन्होंने कहा कि 300 करोड़ रुपये के खर्च का आरोप लगाने वाले माफी मांगे। अखिलेश ने कहा जब सलमान खान अस्तपाल गए थे वो किसी चैनल ने नहीं दिखाया।
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You