बंद कर दें प्याज खाना, नियंत्रण में आ जाएंगे दाम: हाई कोर्ट

  • बंद कर दें प्याज खाना, नियंत्रण में आ जाएंगे दाम: हाई कोर्ट
You Are HereNational
Friday, January 10, 2014-10:55 PM

नई दिल्ली : प्याज जैसी सब्जियों की लगातार बढ़ रही कीमतों पर अंकुश के लिए एक वकील की उम्मीदों पर आज उस समय पानी फिर गया जब उच्चतम न्यायालय ने उसे सुझाव दिया कि कीमतों पर नियंत्रण के लिए कुछ महीने तक प्याज का सेवन बंद कर दिया जाए।

न्यायमूर्ति बी एस चौहान की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने संक्षिप्त सुनवाई के बाद वकील विष्णु प्रताप सिंह की जनहित याचिका खारिज कर दी। इस वकील का कहना था कि केन्द्र सरकार खाद्य पदार्थो की कीमतों पर अंकुश लगाने में बुरी तरह विफल हुई है।

न्यायाधीशों ने याचिका खारिज करते हुए वकील से कहा कि आप दो महीने के लिए प्याज खाना बंद कर दें तो इसके दाम नियंत्रण में आ जाएंंगे। न्यायाधीशों ने इस तरह की याचिका पर विचार से इंकार करते हए कहा कि ऐसे मामले दायर करके न्यायालय का काम न बढ़ाया जाए।

याचिकाकर्ता का कहना था कि अनेक वस्तुओं की कीमतों पर अंकुश लगाने में सरकार की विपफलत समाज के गरीब और कमजोर तबके को उचित मूल्य पर खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने और जीने के अधिकार से वंचित कर रही है।

याचिकाकर्ता का तर्क था कि खाद्य पदार्थो की कीमतों पर अंकुश लगाने के लिए केन्द्र सरकार आवश्यक वस्तु कानून 1955 लागू करने बुरी तरह विफल हुई है और इसी वजह से प्याज, आलू और टमाटर जैसी बुनियादी संब्जियों की कीमतों में व्यापारी और कालाबाजारी करने वाले निरंतर वृद्धि कर रहे हैं।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You