आदर्श सोसाइटी में कुछ गलत नहीं : शिन्दे

  • आदर्श सोसाइटी में कुछ गलत नहीं : शिन्दे
You Are HereNational
Friday, January 10, 2014-7:41 PM

नई दिल्ली : गृह मंत्री सुशील कुमार शिन्दे ने आदर्श सोसाइटी घोटाला मामले में अपनी भूमिका का बचाव करते हुए कहा कि उन्होंने फ्लैटों के लिए जो भी सिफारिशें कीं, वे पात्रता के आधार पर थीं। भूमि महाराष्ट्र सरकार की है और करगिल नायकों के लिए उसमें कोई आरक्षण नहीं था।

शिन्दे ने संवाददाताओं से कहा कि आदर्श सोसाइटी आवंटन में कुछ गलत नहीं। आपको न्यायिक आयोग की रिपोर्ट का ब्यौरा देखना होगा। सच्चाई यह है कि भूमि महाराष्ट्र सरकार की है और कारगिल नायकों के लिए कोई आरक्षण नहीं था।

उच्च न्यायायलय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश जे ए पाटिल की अध्यक्षता वाले दो सदस्यीय आयोग की रिपोर्ट में दोष लगाया गया है कि महाराष्ट्र के चार पूर्व मुख्यमंत्रियों अशोक चव्हाण, दिवंगत विलासराव देशमुख, सुशील कुमार शिन्दे और शिवाजीराव एन पाटिल सहित कई राजनीतिकों ने वैधानिक प्रावधानों का खुला उल्लंघन किया है।

राज्य सरकार ने रिपोर्ट को आंशिक रूप से स्वीकार कर लिया है और दोषी ठहराए गए नौकरशाहों के खिलाफ कार्रवाई का ऐलान किया है लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री चव्हाण को छोड बाकी सभी राजनीतिकों को यह कहते हुए क्लीन चिट दे दी कि उनके खिलाफ कोई आपराधिकता सामने नहीं आई है।

शिन्दे ने कहा कि मुख्यमंत्री के रहते हुए उन्होंने चार पांच अन्य सोसाइटियों के लिए आवंटन किया था और राज्य के वित्त मंत्री रहते नौ साल उन्होंने ऐसी कई मंजूरियां दीं ।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You