जांच के बाद बिलों का फैसला

  • जांच के बाद बिलों का फैसला
You Are HereNational
Saturday, January 11, 2014-2:52 PM

नई दिल्ली (निहाल सिंह): केजरीवाल की सरकार का इंतजार कर रहे उन लोगों के लिए अच्छी खबर है, जिन्होंने अभी तक अपने बिजली के बिल नहीं भरे थे। पिछले कई महिनों से बिल न भरने वाले उन लोगों की शिकायत को दूर करने के लिए दिल्ली सरकार आने वाले दिनों में एक कमेटी बनाने जा रही है। यह कमेटी उन लोगों की शिकायत का निपटारा करेगी जो केजरीवाल के कहे अनुसार पिछले कई माह से अपना बिजली बिल नहीं भर रहे थे। हालांकि बी.एस.ई.एस और एन.डी.पी.एल के अधिकारी इस बात से इंकार कर रहे है कि दिल्ली में बहुत सारे लोग बिजली का बिल नहीं भर रहे।

कैसे होगा शिकायत का निपटारा: आम आदमी पार्टी के अधिकारिक प्रवक्ता के अनुसार आने वाले दो सप्ताह में दिल्ली में बढ़े हुए बिजली के बिलों की निपटान के लिए बनी कमेटी एक विशेष जांच लैब से लैस होगी। यह कमेटी उन लोगों से अपनी शिकायत दर्ज कराने की बात कहेगी जो लोग अब तक अपना बिजली का बिल इसलिए नहीं भर रहे थे कि उन्हें लगता था कि उनके बिल ज्यादा आ रहे हैं, या फिर मीटर बहुत तेज चलता है। ऐसे सभी मामलों को अपने संज्ञान में लेकर केजरीवाल की एक्सपर्ट कमेटी उनके मीटरों की जांच करेगी। और जिन लोगों के मीटर तेज दौड़ते हुए पाए जाएंगे उनको जमा किए गए बिल का पैसा ब्याज सहित वापस दिया जाएगा।

इसके आलावा वह लोग जिनके बिल अधिक है और उनके मीटर की जांच में कोई दोष नहीं पाया गया तो उन लोगों को पूरा बिल भरना होगा। बस इसमें नया प्रावधान यह होगा कि अगर कोई एक साथ बिल की राशि चुकाने में असमर्थ है तो वह हर माह किस्त पर वह राशि चुका सकेगा। आई.आई.टी और डी.टी.यू से ली जाएगी मदद दिल्ली में बढ़े हुए बिजली के उपभोक्ताओं को राहत देने के लिेए आम आदमी पार्टी जिस कमेटी का गठन करने जा रही हैं उसमें तमाम तरह के विशेषज्ञों को शामिल करने की चर्चा जोरों पर है। पार्टी सूत्रों के अनुसार पार्टी इस कमेटी में आई.आई.टी और दिल्ली टैक्नीकल यूनिवर्सिटी के विशेषज्ञों को शामिल करेगी।


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You