जनता दरबार में अगली बार से अच्छे इंतजाम होंगे: केजरीवाल

  • जनता दरबार में अगली बार से अच्छे इंतजाम होंगे: केजरीवाल
You Are HereNational
Sunday, January 12, 2014-1:21 AM

नई दिल्ली : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को अपने ‘जनता दरबार’ की आलोचना खारिज करते हुए कहा कि कुप्रबंधन की वजह से पूरी कवायद में अव्यवस्था भले ही फैली हो पर उन्होंने इससे सीख ली है और अगला  जनता दरबार बेहतर इंतजामों के साथ किसी बड़ी जगह पर आयोजित किया जाएगा।

यहां एक संवाददाता सम्मेलन में केजरीवाल ने कहा कि उन्हें उम्मीद नहीं थी कि इतनी बड़ी तादाद में लोग जनता दरबार में शिरकत करेंगे। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी संख्या में लोगों के आने से पता चलता है कि उनकी सरकार में लोगों का यकीन कितना अधिक है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि वह  जनता दरबार बीच में ही छोड़कर नहीं जाते तो वहां भगदड़ जैसे हालात पैदा हो सकते थे। उन्होंने कहा कि वहां का प्रबंध अच्छा नहीं था और इसके लिए उन्होंने जनता से माफी मांगी है। उन्होंने फरियादियों के शिकायती पत्र लिए हैं और ऐसी स्थिति से निपटने के लिए जल्द ही कोई व्यवस्था की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा, हमने 700 से 1000 लोगों के लिए इंतजाम किया था पर 7,000 से ज्यादा लोग वहां आए। हम इतनी बड़ी तादाद में लोगों के आने की उम्मीद नहीं कर रहे थे। केजरीवाल ने कहा, हम जनता की समस्याएं सुनने के लिए उनके पास जाना चाहते हैं। हमारी सरकार लोगों के लिए काम करना चाहती है ।

आज जब हम सड़क पर बैठे तो मुझे पता चला कि कितने लोग मुझसे मिलना चाहते हैं। जल्दबाजी में फैसले करने के भाजपा के आरोपों पर केजरीवाल ने कहा, हां  हम जल्दबाजी में हैं। यदि लोग जल्द से जल्द कदम नहीं उठाएंगे तो यह देश नहीं बचेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें तीन-चार अच्छे सुझाव मिले हैं जिन पर वह वरिष्ठ अधिकारियों के साथ चर्चा करेंगे।

जब मुख्यमंत्री को बताया गया कि उत्तर प्रदेश में मुलायम सिंह यादव या बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में ऐसे कुप्रबंधन की खबरें कभी नहीं आईं, इस पर उन्होंने कहा, यह विश्वास का सवाल है। उन आयोजनों में इतने लोग नहीं आते हैं। आज जो लोग आए थे उन्हें यकीन था कि उनकी समस्याएं सुलझा ली जाएंगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You