वी के सिंह को विशेषाधिकार समिति के सामने बुलाने का कोई लाभ नहीं : सोज

  • वी के सिंह को विशेषाधिकार समिति के सामने बुलाने का कोई लाभ नहीं : सोज
You Are HereNational
Sunday, January 12, 2014-5:31 PM

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर कांग्रेस प्रमुख सैफुद्दीन सोज ने पूर्व सेना प्रमुख जनरल वी के सिंह को विधान परिषद विशेषाधिकार समिति के समक्ष बुलाने के कदम से असहमति जताते हुए आज कहा कि इससे किसी उद्देश्य की पूर्ति नहीं होगी और उन्हें उस पद के लिए ‘‘थोड़ा सम्मान’’ दिया जाना चाहिए जिस पर वह आसीन थे।

सोज ने कहा कि सिंह के खिलाफ आरोपों के लिए अदालतें हैं। सोज ने कहा, ‘‘यह मेरा निजी विचार है कि पूर्व सेनाध्यक्ष को नहीं बुलाया जाना चाहिए था क्योंकि इससे कोई उद्देश्य की पूर्ति नहीं होगी। हमें ऐसे व्यक्ति को थोड़ा सम्मान देना चाहिए जो हमारे सशस्त्र बलों का प्रमुख रह चुका है। उन्होंने जो भी कहा, उन्होंने उससे इनकार किया अब उन्हें बुलाने का क्या लाभ है।’’

वी के सिंह समिति के समक्ष नौ जनवरी को पेश होने में असफल रहे थे और उनके वकील ने कहा था कि वह अपनी कथित टिप्पणी के लिए 22 जनवरी के लिए जारी ताजा सम्मन का पालन करेंगे कि सेना राज्य में राजनेताओं को पैसे दे रही है। उन्होंने कहा, ‘‘एक विशेषाधिकार समिति है और उसके बाद यह देखने के लिए कि उनके आरोप सही हैं अदालतें भी हैं। जनरल हमेशा से ही विवादास्पद रहे हैं और वह अभी भी है, मैंने उनकी प्रशंसा नहीं है लेकिन कहा है कि उन्हें बुलाने से केवल खुशी ही मिलेगी।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You