विभाजनकारी ताकतों के प्रति सतर्क रहें: मनमोहन सिंह

  • विभाजनकारी ताकतों के प्रति सतर्क रहें: मनमोहन सिंह
You Are HereNational
Monday, January 13, 2014-7:49 PM

नई दिल्ली : हाल के समय में हिन्दू मस्लिमों के संबंधों के कड़ी परीक्षा से गुजरने की बात की ओर ध्यान दिलाते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह आज नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते दिखे। उन्होंने धर्मनिरपेक्षता को फिर से परिभाषित करने के प्रयासों के जरिए भारत के धर्मनिरपेक्ष विचार के खिलाफ काम करने वाले लोगों के प्रति देशवासियों को सतर्क रहने को कहा है।

उन्होंने अल्पसंख्यकों के लाभ के लिए सरकार द्वारा किए गए निर्णयों को उजागर करते हुए इस वर्ग को लुभाने का प्रयास किया। इनमें नौकरियों एवं कल्याणकारी योजनाओं में उनकी भागीदारी बढ़ाने तथा मुस्लिमों के सामाजिक एवं आर्थिक पिछड़ेपन को दूर करने के कार्यक्रम चलाने के फैसले शामिल हैं।

प्रधानमंत्री ने राज्य अल्पसंख्यक आयोगों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भारत की मजबूती उसकी एकता में निहित है। उन्होंने विभाजनकारी ताकतों के प्रति आगाह किया। मुजफ्फरनगर के हाल में हुए दंगों की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि देश के अधिकतर हिस्सों में बहुसंख्यक एवं अल्पसंख्यक समुदायों के संबंध सौहाद्र्रपूर्ण हैं। हालांकि कुछ ऐसी घटनाएं भी हुई जिसमें कमें कड़ी परीक्षा से गुजरना पड़ा।

उन्होंने कहा कि ऐसे विचलन से हमारे समाज एवं देश की छवि खराब होती है। इनसे प्रभावित लोगों को पीड़ा एवं कष्ट होता है। इनसे हमारे समाज के एक बड़े वर्ग की  देश की त्वरित आर्थिक प्रगति में योगदान देने की क्षमता प्रभावित होती है।

प्रधानमंत्री ने परोक्ष रूप से भाजपा एवं उसके प्रधानमंत्री प्रत्याशी नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि भारत जैसे देश में शताब्दियों से धर्मनिरपेक्षता जीवन शैली का अंग रहा है। हमें ऐसे लोगों से आगाह रहना चाहिए जो धर्मनिरपेक्षता को फिर से परिभाषित करने का प्रयास कर भारत के धर्मनिरपेक्षता के विचार के खिलाफ काम कर रहे हैं।

 साथ ही उन्होने कहा कि हमें ऐसी ताकतों के प्रति सतर्क रहना चाहिए जो हमारे समाज को बांटने के लिए धर्म, भाषा एवं संस्कृति में हमारी विविधता का दुरूपयोग करना चाहते हैं। मनमोहन एवं मोदी के बीच हाल में लगातार वाकयुद्ध चल रहा है तथा दोनों नेता विभिन्न मंचों पर एक दूसरे पर शब्द बाण छोड़ रहे हैं।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You