शीला पर लटकी तलवार, मीटरों की खरीद में 150 करोड़ का घोटाला

  • शीला पर लटकी तलवार, मीटरों की खरीद में 150 करोड़ का घोटाला
You Are HereNational
Tuesday, January 14, 2014-1:19 AM

नई दिल्ली: भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीक्षा दीक्षित की परेशानियां बढ़ सकती हैं। पानी के मीटरों की खरीद में हुए कथित घपले को लेकर सी.बी.आई. दिल्ली जल बोर्ड पर जल्द मुकद्दमा दर्ज करने वाली है। इन मीटरों की खरीदारी में 2 कम्पनियों को करोड़ों रुपए का बेजा लाभ पहुंचाने का आरोप है। जल बोर्ड ने ये मीटर 2011 में खरीदने की कवायद शुरू की थी। उस वक्त शीला दीक्षित जल बोर्ड की अध्यक्ष थीं।

सैंट्रल विजीलैंस कमीशन (सी.वी.सी.) के आदेश पर सी.बी.आई. ने जल बोर्ड में मीटरों की खरीद और राजधानी के 3 इलाकों में पानी की सप्लाई का ठेका 3 कम्पनियों को देने के मामले की जांच पूरी कर ली है। इस बात की सम्भावना बन रही है कि इस सप्ताह सी.बी.आई. बोर्ड के खिलाफ मुकद्दमा दर्ज कर सकती है। शीला दीक्षित उस समय जल बोर्ड की अध्यक्ष थीं, जब यह कथित गड़बड़ी हुई।

पानी के मीटरों की घपले का आरोप वर्ष 2012 में लगा था। तब एक एन.जी.ओ. ने सी.वी.सी. को दिए सबूतों में आरोप लगाया था कि पानी के मीटरों की खरीद में करीब 150 करोड़ रुपए का घपला हुआ है। मामले की गम्भीरता को देखते हुए सी.वी.सी. ने इसे सी.बी.आई. के सुपुर्द कर दिया था। सी.बी.आई. इस मामले की जांच पूरी कर चुकी है। वैसे शीला दीक्षित अपने कार्यकाल में हुए इस प्रकार के घपले से लगातार इन्कार करती रही हैं। उन्होंने इन आरोपों को विपक्ष की चाल बताते हुए किसी भी प्रकार की जांच से इंकार कर दिया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You