कश्मीर में सुरक्षा के लिए सेना जरुरी: फारुख अब्दुल्ला

  • कश्मीर में सुरक्षा के लिए सेना जरुरी: फारुख अब्दुल्ला
You Are HereNational
Tuesday, January 14, 2014-10:01 AM

टोंक: केन्द्रीय अक्षय ऊर्जा नवीनीकरण मंत्री फारूख अब्दुल्ला ने कहा है कि जम्मू कश्मीर को न ही जनमत संग्रह की आवश्यकता है और न ही वहां से सेना हटाने की जरूरत है क्योंकि सेना की वजह से ही हम और आप सुरक्षित है। अब्दुल्ला ने साफ  तौर पर कहा है कि हमारी सुरक्षा को खतरा है और हम पर विदेशी शक्तियां आंख गडाए है।

उन्होंने कहा कि सेना की तैनाती की वजह से ही आज जम्मू कश्मीर और वहां की जनता सुरक्षित है, वही उन्होंने वहां पर जनमत संग्रह की आवश्यकता के सवाल पर कहा कि इसकी कोई जरूरत नही है। अब्दुल्ला आज यहां वनस्थली विधापीठ मे विधापीठ के 78वें वार्षिक समारोह मे भाग लेने पहुंचे थे और समारोह मे अपने सम्बोधन के बाद वह पत्रकारो के सवाल का जवाब दे रहे थे।

उन्होंने भाजपा को आम आदमी पार्टी से डरा हुआ बताया। इससे पहले अब्दुल्ला ने शिक्षा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि नारी शिक्षा सबसे बडी जरूरत है और एक लडकी पढ लिखकर दो घरों को संभालती है और आज शिक्षा के साथ आज जो मैनें यहां आकर देखा है तो मैं हैरान हूं। यहां पर बच्चियां हवाई जहाज उडा रही है, घोडे दौडा रही है तथा तीर चला रही है और यह सब वे अपनी पडाई के साथ कर रही है यह गौरव की बात है।

इस अवसर पर उन्होने अपने अनुभव सुनाते हुए कहा कि मेरी इच्छा है कि अगले जन्म मैं लडकी के रुप में जन्म लूं। वार्षिकोत्सव मे भाग लेने पहुंचे अब्दुल्ला को सबसे पहले छात्राओ ने गार्ड आफ  आनर दिया और उन्होने मार्च पास्र्ट की सलामी ली। उसके बाद अब्दुल्ला ने छात्राओ द्वारा की गई घुडसवारी और हवाई जहाज उडाने के करतब भी देखे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You