एमटीएनएल कर्मी के परिजनों को मिलेगा 42 लाख रुपए मुआवजा

  • एमटीएनएल कर्मी के परिजनों को मिलेगा 42 लाख रुपए मुआवजा
You Are HereNational
Tuesday, January 14, 2014-9:28 PM

नई दिल्ली : सड़क दुर्घटना में एक एम.टी.एन.एल. कर्मी महिला की मौत हो जाने के मामले में दिल्ली की एक मोटर एक्सीडैंट क्लेम ट्रिब्यूनल ने 42 लाख रुपए मुआवजा देने का आदेश दिया है। मुआवजे की यह राशि मृतका के परिजनों को दी जाएगी।

ट्रिब्यूनल ने रिलायंस जनरल इंश्योरैंस कंपनी को निर्देश दिया है कि वह मृतका के परिजनों को 41 लाख 85 हजार रुपए मुआवजा दे। 10 दिसम्बर 2009 को हुई सड़क दुर्घटना में 48 वर्षीय रुक्मिणी देवी की मौत हो गई थी। ट्रिब्यूनल ने मुआवजे का आदेश देते हुए कहा कि दुर्घटना में शामिल कार के ड्राइवर व मालिक की यह दलील गलत है कि मृतका का पति गलत तरीके से ड्राइविंग कर रहा था। इस कारण यह दुर्घटना हुई है।

ट्रिब्यूनल के जज बी.एस.चुंबक ने कहा कि यह साबित हो गया है कि यह दुर्घटना कार के ड्राइवर की गलती के कारण हुई थी। इसलिए मृतका के परिजन मुआवजा पाने के हकदार हैं। इस मामले में मृतका रुक्मिणी के पति व 2 बच्चों ने एक अर्जी दायर कर मुआवजा दिलाए जाने की मांग की थी।

वहीं अर्जी में बताया गया है कि घटना के दिन रुक्मिणी अपने पति के साथ मोटर साइकिल पर जा रही थी। लक्ष्मी नगर इलाके में उनकी मोटर साइकिल को एक कार चालक ने टक्कर मार दी जिस कारण रुक्मिणी मोटर साइकिल से गिर गई और घायल हो गई। उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां उसकी मौत हो गई।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You