विधानसभा में एफडीआई का मुद्दा उठाएगी कांग्रेस: अरविंदर सिंह लवली

  • विधानसभा में एफडीआई का मुद्दा उठाएगी कांग्रेस: अरविंदर सिंह लवली
You Are HereNational
Tuesday, January 14, 2014-9:37 PM

नई दिल्ली :  दिल्ली की आप सरकार द्वारा एफडीआई  की अनुमति के फैसले को मनमाने तरीके से पलटने पर हैरानी जताते हुए कांग्रेस पार्टी ने इस मुद्दे को विधानसभा में उठाने का फैसला किया है। साथ बी पार्टी का यह भी कहना है कि आप सरकार केवल वहीं काम करना चाहती है, जिससे उसे प्रचार मिले।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष व विधायक अरविंदर सिंह लवली और कांग्रेस विधायक दल के नेता हारून यूसुफ ने इस मामले में मंगलवार को वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री आनंद शर्मा से मुलाकात कर बातचीत की। दोनों नेताओं ने शाम को संवाददाताओं को बताया कि मुझे नहीं लगता कि दिल्ली सरकार ने जो किया है उसका कोई कानूनी आधार है। हम दिल्ली विधानसभा में इस मुद्दे पर बहस के लिए कहेंगे।

आम आदमी पार्टी की सरकार ने कल एक बड़े नीतिगत फैसले को पलटते हुए पिछली शीला दीक्षित सरकार द्वारा एफडीआई की अनुमति को वापस ले लिया था। दिल्ली सरकार का कहना है कि वॉलमार्ट व टेस्को जैसी वैश्विक खुदरा श्रृंखलाओं के आने से बड़े पैमाने पर बेरोजगारी बढ़ेगी।

यह पूछे जाने पर कि क्या कांग्रेस आप सरकार से एफडीआई के मसले पर समर्थन वापस लेगी, लवली ने कहा यह समर्थन वापस लेने का सवाल नहीं है। लवली ने कहा कि यदि सरकार को कोई बड़ा फैसला लेना है, तो उसकी कुछ प्रक्रियाएं होती हैं, जिसका पालन होना चाहिए।

हमें इस मनमाने फैसले पर हैरानी है। एक अल्पमत की सरकार एक दिन चिट्ठी लिखकर यह नहीं कह सकती कि दिल्ली में एफडीआई नहीं होगा। उन्होंने कहा कि आप सरकार हेल्पलाइन व संवाददाता सम्मेलनों की सरकार बन गई है। उन्होंने कहा कि रिलायंस जैसी खुदरा कंपनियां पहले से दिल्ली में मौजूद हैं।

लवली ने कहा इससे रोजगार कैसे घटेगा। मैं इसको समझ नहीं पा रहा हूं। मुझे नहीं लगता कि इससे दिल्ली में रोजगार पर असर पड़ेगा। मुझे लगता है कि अन्य फैसलों की तरह इस फैसले में भी उन्होंने अपना दिमाग नहीं लगाया है। वे सिर्फ वह काम करना चाहते हैं जिससे प्रचार मिले।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You