'नेताजी की फाइलों को सार्वजनिक करने में कोई भूमिका नहीं'

  • 'नेताजी की फाइलों को सार्वजनिक करने में कोई भूमिका नहीं'
You Are HereNational
Thursday, January 16, 2014-11:06 AM

कोलकात: राष्ट्रीय सलाहकार परिषद ने स्पष्ट किया है कि उसके अध्यक्ष की नेताजी सुभाष चंद्र बोस के लापता होने के संबंध में जारी रहस्य से संबंधित गोपनीय दस्तावेजों के सार्वजनिक किए जाने के मामले में कोई भूमिका नहीं है। परिषद के अध्यक्ष के निजी सचिव धीरज श्रीवास्तव ने एक पत्र में कोलकाता स्थित एक स्वयंसेवी संगठन इंडिया स्माइल द्वारा भेजे एक कानूनी नोटिस के जवाब में कहा ,‘‘मैं यह बताना चाहता हूं कि इस मामले से राष्ट्रीय सलाहकार परिषद की अध्यक्ष का कोई सरोकार नहीं है ।’’

सामाजिक कार्यकर्ताओं ने परिषद को एक कानूनी नोटिस भेजकर मांग की है कि नेताजी के लापता होने को लेकर जारी रहस्य के समाधान के लिए इस संबंध में अति गोपनीय समेत सभी दस्तावेजों को सार्वजनिक किया जाना चाहिए। इन लोगों ने कलकत्ता उच्च न्यायालय की खंडपीठ के समक्ष एक जनहित याचिका भी दायर की है। इस याचिका के कल मुख्य न्यायाधीश अरूण मिश्रा और न्यायमूर्ति जयमाल्या बागची की पीठ के सामने रखे जाने की उम्मीद है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You