मुजफ्फरनगर पीड़ितों को टीआरपी बनाने से नहीं होगा उनका भला: आज़म खां

  • मुजफ्फरनगर पीड़ितों को टीआरपी बनाने से नहीं होगा उनका भला: आज़म खां
You Are HereNational
Wednesday, January 15, 2014-8:59 PM

लखनऊः विवादों के बीच यूरोपीय देशों के दौरे पर गए राष्ट्रमंडल प्रतिनिधिमंडल के अध्यक्ष एवं नगर विकास एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मोहम्मद आज़म खां ने लंदन से एक बयान जारी कर मीडिया पर जमकर भड़ास निकाली है। उन्होंने कहा है कि मुजफ्फरनगर पीड़ितों को अपनी टीआरपी का हथियार बनाना तथा उनकी हमदर्दी के नाम पर होड़ में एक दूसरे से आगे निकल जाने की कोशिश करने से दंगा पीड़ितों का भला नहीं बल्कि बुरा हो रहा है।

इस प्रकार आपसी भाईचारा बनाने के बजाय नफरत को बढ़ावा दिया जा रहा है। आज़म ने इस दौरे को न केवल उत्तर प्रदेश बल्कि भारत के लिए बड़ी उपलब्धि बताया है। लंदन स्थित कैम्प कार्यालय से जारी किए गए एक बयान में आज़म ने इस बात पर दु:ख व्यक्त किया है कि मीडिया द्वारा जो संदेश देने का प्रयास किया गया है उससे राजनेताओं के प्रति तथा विशेष रूप से प्रदेश की वर्तमान सरकार के प्रति नफरत का माहौल बनाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से मीडिया की महिला बहनें एक बाइट के लिए पीछा कर रही हैं, धक्का मुक्की जैसी स्थिति पैदा कर रही हैं, अमर्यादित ढंग से प्रश्न पूछ रही हैं, उससे यूरोपीय देशों के लोग काफी हतप्रभ हैं, क्योंकि इन देशों में इस प्रकार के आचरण के लिए कोई गुंजाइश नहीं है। आजम ने लंदन से जारी किए गए बयान में यह भी कहा है कि यूरोपीय देशों में स्थानीय पुलिस तथा सरकारों ने प्रतिनिधिमंडल को कहीं भी फुटपाथ पर ठहरने की अनुमति नहीं दी है, बल्कि अपने हिसाब से मेहमाननवाज़ी की जा रही है क्योंकि उनके प्रतिनिधिमंडलों के आने पर हमारी सरकारें भी ऐसा ही करती हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You