गाजीपुर संयंत्र से जल्द मिलेगी 12 मेगावाट बिजली

  • गाजीपुर संयंत्र से जल्द मिलेगी 12 मेगावाट बिजली
You Are HereNational
Thursday, January 16, 2014-12:49 AM

नई दिल्ली :  राजधानी में बिजली की ज्वलंत समस्या से जूझ रहे लोगों को जुलाई से भारी राहत मिलेगी। पूर्वी दिल्ली नगर निगम की बहुचर्चित कूड़े से गैस और बिजली बनाने गाजीपुर संयत्र 12 मेगावाट बिजली का उत्पादन करेगी।

गाजीपुर संयंत्र से मिलने वाली इस बिजली का लाभ पटपडग़ंज औद्यौगिक सदन के उद्यमियों को मिल सकेगा। पूर्वी दिल्ली के मेयर रामनारायण दूबे ने कूड़े से गैस तैयार करने के प्रोजेक्ट का निरीक्षण कर जुलाई माह से बिजली उत्पन्न करने की बात कही है।

दूबे ने बताया कि दिसंबर माह तक 5 लाख क्यूबिक मीटर गैस को जलाया जा चुका है, जोकि खासतौर से पर्यावरण के लिए घातक है। 1300 मीट्रिक टन कूड़े को जलाकर उसे गैस में तब्दील किया जा रहा हैए इसके लिए पाइप लाइन डाली गईं है। विशेष रूप से गैस खींचने वाला पम्प लगाया गया है। आने वाले समय में इसी गैस को सीएनजी अथवा पीएनजी के तौर पर इस्तेमाल करने की योजना है।

यही नहीं कूड़े को ताजी मिट्टी डालकर ढका जा रहा है ताकि ग्रीन क्षेत्र में विकसित किया जा सके तथा आस-पास का वातावरण भी दूषित होने से बचाया जा सके। पहले उस क्षेत्र से आवागमन करने पर दुर्गंध की शिकायतें रहती थीं। इसके अलावा निकट ही कूड़े से बिजली तैयार करने की परियोजना पर भी तेजी से काम चल रहा है। इसके लिए आरडीएफ  प्लांट लगाया गया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You