पाकिस्तान के नकली नोटों के जाल में उलझी दिल्ली पुलिस

  • पाकिस्तान के नकली नोटों के जाल में उलझी दिल्ली पुलिस
You Are HereNational
Thursday, January 16, 2014-12:53 AM

नई दिल्ली (कुमार गजेन्द्र): दिल्ली पुलिस पाकिस्तान से भारत में भेज जा रहे नकली नोटों के मकड़ जाल में उलझ कर रह गई है। पुलिस में स्पैशल सैल और क्राइम ब्रांच की कई टीमों को इस काम पर लगाया गया है लेकिन पुलिस को अभी भी समझ नहीं आ रहा है कि इस रैकेट का भंडाफोड़ कैसे किया जाए। पुलिस ने जांच को आगे बढ़ाने के लिए इस धंधे में पकड़े गए कई लोगों को एक बार फिर से रिमांड पर लिया है।

दिल्ली पुलिस के स्पैशल सैल में दर्ज एफ.आई.आर. नंबर 02/14 के मुताबिक सैल की टीम ने इसी माह 12 जनवरी को एक सूचना के बाद सब्जी मंडी इलाके में छापा मारकर मोहम्मद कयूम, हबीबऊद्दीन मोमी और कमाल उर्फ सोनू को गिरफ्तार किया था।

पुलिस ने इनके कब्जे से 5 लाख रुपए के नकली नोट बरामद किए थे। बरामद नोट 5-5 सौ और एक हजार रुपए के थे। पुलिस का कहना था कि सभी नोट पाकिस्तानी खुफिया एजैंसी ने भारत में मौजूद अपने एजैंट के माध्यम से दिल्ली तक पहुुंचाए थे।

जांच में यह भी सामने आया कि नकली नोटों की एक बड़ी खेप हरियाणा और पंजाब तक भी भेजी जानी थी लेकिन इससे पहले ही पुलिस को भनक लग गई। पुलिस ने जब सभी आरोपियों को रिमांड पर लेकर पूछताछ की तो पता चला कि नकली नोटों को दिल्ली तक भेजने वाला एक सरगना मलिक है, जो पश्चिम बंगाल में  बैठा है।

वहीं नकली नोटों की खेप को भारत के विभिन्न इलाकों में भेजता है। एक अधिकारी के मुताबिक पुलिस ने अब नकली नोटों के इस रैकेट का भंडाफोड़ करने के लिए तिहाड़ जेल में बंद पूर्व में पकड़े गए कुछ बड़े माफियाओं को एक बार फिर से रिमांड पर लेकर पूछताछ करने की योजना बनाई है। कुछ लोगों को पुलिस ने रिमांड पर भी लिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You