राहुल करेंगे प्रचार की अगुआई, PM का प्रत्याशी नहीं होंगे

You Are HereNational
Friday, January 17, 2014-2:28 AM

नई दिल्लीः कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की यहां गुरुवार को हुई बैठक में सभी की सहमति के बावजूद पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी को कांग्रेस की परंपरा के नाम पर प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी घोषित नहीं किया गया। पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने यह कहकर पार्टी नेताओं की राय को खारिज कर दिया कि चुनाव के पहले प्रत्याशी घोषित करना पार्टी की परंपरा में नहीं है।

कांग्रेस नेता जनार्दन द्विवेदी ने कहा कि सीडब्ल्यूसी में सभी राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने पर राजी थे। पार्टी के एक सूत्र ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने राहुल को प्रत्याशी बनाए जाने का विरोध करते हुए कहा कि ऐसा करना कांग्रेस की परंपरा नहीं रही है। द्विवेदी ने कहा कि पार्टी में सोनिया के बाद राहुल गांधी दूसरे नंबर पर होंगे। उन्होंने कहा कि अगले आम चुनाव में राहुल गांधी कांग्रेस के प्रचार अभियान की कमान संभालेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी घोषित करने की जरूरत नहीं है।

इससे पहले पार्टी सूत्रों ने बताया था कि बैठक में प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी के रूप में नाम पेश किए जाने के बारे में विभिन्न सुझावों पर भी विचार किया जाना है। पार्टी सूत्रों ने कहा था कि पार्टी का एक धड़ा प्रधानमंत्री प्रत्याशी पेश किए जाने के पक्ष में है, जबकि दूसरे समूह को इस तरह के कदम पर आपत्ति है। सूत्रों ने कहा कि जो लोग राहुल को प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी घोषित किए जाने पर जोर दे रहे हैं उनका मानना है कि इसे पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ेगा। ऐसे नेताओं का मानना है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नरेंद्र मोदी और आम आदमी पार्टी (आप) की ओर से अरविंद केजरीवाल को चुनावी चेहरा बनाए जाने की सूरत में कांग्रेस को ‘छवि विहीन’ होकर नहीं उतरना चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You