Subscribe Now!

भ्रष्टाचार के विरूद्ध जीरो टॉलरेन्स ही सुशासन का मूल मंत्र: चौहान

  • भ्रष्टाचार के विरूद्ध जीरो टॉलरेन्स ही सुशासन का मूल मंत्र: चौहान
You Are HereMadhya Pradesh
Friday, January 17, 2014-9:16 AM

भोपाल: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि भ्रष्टाचार के विरूद्ध जीरो टॉलरेंस ही सुशासन का मूल मंत्र है। मुख्यमंत्री हेल्प लाइन और टेली समाधान व्यवस्था को एकीकृत कर दिया गया है। इस हेल्प लाइन को टेलीविभाग द्वारा जल्द ही तीन डिजिट का सरल 181 टोल फ्री नंबर आम लोगों के लिए उपलब्ध करवाया जाएगा। चौहान ने आज यहां सभी विभागों के अपर मुख्य सचिव प्रमुख सचिव और सचिवों की उच्च स्तरीय बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि निचले स्तर पर भ्रष्टाचार और लापरवाही पाए जाने पर वरिष्ठ अधिकारी की जिम्मेदारी तय की जाएगी।

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार से संबंधित शिकायतों पर शिकायतकर्ता को 48 घंटों के अंदर अनिवार्य रूप से जवाब दिया जाए। अपरिहार्य परिस्थितियों को छोड़कर केवल शुक्रवार और शनिवार के अलावा अन्य दिनों में बैठकें रखी जाएं। उन्होंने बताया कि वे स्वयं केवल सोमवार और मंगलवार को मंत्रालय में बैठकें लेंगे और बाकी दिन मैदानी दौरा करेंगे। उन्होंने कहा कि वह हर सोमवार को शाम को किसी महत्वपूर्ण विषय विशेष पर सभी विभागों के सचिव मिलकर विचार-विमर्श करेंगे।

अंतर्विभागीय समन्वय और आने वाली बाधाओं पर चर्चा कर समाधान निकाला जाएगा। इसी तारतम्य में आगामी सोमवार को गौण खनिजों रेत, गिटटी आदि के संबंध में नीति तय करने के संबंध में चर्चा की जाएगी। चौहान ने कहा कि पूरी व्यवस्था में पारदर्शिता लाने के लिए ऊपरी स्तर से शुरूआत करना जरूरी है। जो अच्छा काम करें उसकी तारीफ हो और उसका सार्वजनिक सम्मान भी किया जाए तथा लापरवाही करने वालों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई की जाए।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You