‘जन्मदिन न मनाने का नाटक कर मुसलमानों को गुमराह कर रही मायावती’

  • ‘जन्मदिन न मनाने का नाटक कर मुसलमानों को गुमराह कर रही मायावती’
You Are HereNational
Friday, January 17, 2014-1:17 PM

सहारनपुर: एम.एल.सी. उमर अली खान ने अपने आवास पर सपा कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कि मुजफ्फरनगर दंगों में सपा को छोड़ सभी राजनीतिक दल राजनीति कर रहे हैं। केवल जुबानी हमदर्दी दिखाकर समस्या का समाधान नहीं होता। उन्होंने कहा कि बसपा प्रमुख मायावती अपना जन्मदिन न मनाने का नाटक कर मुसलमानों को गुमराह कर रही हैं। बसपा अगर मुसलमानों की इतनी हमदर्द है तो मोदी का प्रचार करने पिछले दिनों गुजरात क्यों गई थी। आज चुनाव पास आता देखकर बसपा सभी जाति धर्म के लोगों को साथ लेकर चलने की बात कहकर नया नाटक करना चाहती है।  खान ने कहा कि यह वही बसपा है जिसने भाजपा के साथ मिलकर उत्तर प्रदेश में सरकार बनाई थी।

इसने हिन्दू और मुस्लिम के साथ विश्वासघात किया है। खान ने कहा कि राहुल गांधी पहले किसी प्रदेश का मुख्यमंत्री बनकर दिखाएं फिर प्रधानमंत्री की दौड़ में हिस्सा लेना चाहिए बड़े पद का तर्जुबा होना बहुत जरूरी है जैसा सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के पास है बैठक को अली फरहान खान, आरिफ खान, राशीद तीतरों, सलीम करौंदी, रिंकू राणा, फराज, डा. खुर्रम, गजनफर, चौधरी उसमान ने भी संबोधित किया। बैठक में शबदन, सैय्यद आबिद, इकराम अंसारी, चौ. हसीब, फिरोज, प्रवेज, मसूद खान, बिल्लू, भूरा, भूपसिहं, अरशद, जयराम, अहसान, कासु, मंसूर मलिक, फैसल, जमशैद, अखलाक, नजम मंसूरी, गौतम, फजलु, अलीहसन आदि मौजूद रहे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You