मैनेजमेंट का जमाना है, हम भी मैनेजमेंट करेंगे: अखिलेश

  • मैनेजमेंट का जमाना है, हम भी मैनेजमेंट करेंगे: अखिलेश
You Are HereNational
Friday, January 17, 2014-3:21 PM

लखनऊ: दंगा प्रभावित मुजफ्फरनगर मे खराब हालात के बीच सैंफई महोत्सव के आयोजन की मीडिया में तीखी आलोचना से विचलित उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज कहा कि वह (मीडिया) समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार की सिर्फ बुराई देखता है और इस स्थिति से निपटने के लिये अब उन्हें भी ‘मैनेजमेंट’ सीखना होगा।

मुख्यमंत्री ने गर्भवती महिलाओं के लिये स्वास्थ्य विभाग की ‘102 एम्बुलेंस सेवा’ का उद्घाटन करने के बाद कहा ‘‘प्रदेश में बिना किसी भेदभाव के बड़े पैमाने पर विकास एवं कल्याणकारी काम किये जा रहे हैं लेकिन हमारे अच्छे कामों में भी बुराइयां ढूंढी जाती हैं। हम समाजवादियों को भी कुछ मैनेजमेंट करना पड़ेगा।’’ किसी का नाम लिये बगैर उन्होंने कहा ‘‘हमारे तमाम साथी लोग हर पहलू पर राजनीति करना चाहते हैं। मैनेजमेंट का जमाना है, हम भी मैनेजमेंट करेंगे।

हम एक दिन नाराज हो गये तो कहा कि हम हिटलर हो गये।’’ अखिलेश ने कहा कि समाजवादी लोग काम करने में आगे हैं मगर प्रचार में पीछे हैं। जहां इतने बड़े पैमाने पर लैपटाप दिया वह बाकी राज्य पांच साल में दे सकेंगे। विद्या धन इतने बड़े पैमाने पर कहीं नहीं दिया जा रहा है। बिना किसी भेदभाव के इतने बड़े पैमाने पर काम हो रहा है, लेकिन सपा प्रचार में पीछे है। उन्होंने कहा ‘‘आरोप लगा कि सपा केवल मुसलमानों की पार्टी है। उच्चतम न्यायालय ने भी पूछ लिया। हमने जवाब दिया। हर वर्ग की बराबर की भरपाई की अब उन्हीं लोगों के तेवर बदल गये। राहत शिविरों में तकलीफ की बात की गयी।’’ 102 एम्बुलेंस सेवा को स्वास्थ्य सेवाओं को विस्तार देने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम करार देते हुए अखिलेश ने कहा कि इस सेवा से वह मां-बच्चे को नि:शुल्क मदद मिलेगी।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You