DGCA की चेतावनी का असर, कम उड़ानों का बदलना पड़ा रास्ता

  • DGCA की चेतावनी का असर, कम उड़ानों का बदलना पड़ा रास्ता
You Are HereNational
Sunday, January 19, 2014-10:32 AM

नई दिल्ली: नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) की आरे से कोहरे वाले मौसम में विमान उड़ाने के लिए प्रशिक्षत पालयटों की तैनाती को लेकर विमानन कंपनियों को कड़ी चेतावनी जारी किए जाने का असर उड़ानों के परिचालन पर दिखने लगा है। इस चेतावनी के बाद से एक दिन में औसतन पांच उड़ानों का ही मार्ग बदला पड़ा।

बीते सात जनवरी को सभी विमान कंपनियों और हवाई अड्डा परिचालकों के साथ बैठक में यह चेतावनी जारी की गई थी। चेतावनी जारी किए जाने से तीन दिन पहले कोहरे से प्रभावित दिल्ली में 53 उड़ानों के मार्ग में परिवर्तन करना पड़ा था। डीजीसीए के सूत्रों ने कहा कि 5-6 जनवरी की रात को सबसे अधिक उड़ानों के मार्ग में बदलाव किया गया था क्योंकि उस वक्त सही ढंग से प्रशिक्षित पायलटों की तैनाती नहीं की गई थी।

इस बैठक के बाद 15-16 जनवरी की रात महज पांच उड़ानों के रास्ते में बदलाव करना पड़ा। इनमें तीन अंतरराष्ट्रीय उड़ानें और दो घरेलू उड़ानें थीं। इसके अलावा उस रात 241 उड़ानों का सफलतापूर्क परिचालन किया गया। डीजीसीए प्रमुख प्रभात कुमार ने संयुक्त सचिव ललित गुप्ता की अध्यक्षता में एक समिति का गठन भी किया है जो आगामी दिसंबर तक उन कदमों के बारे में सुझाव देगी जिनसे दिल्ली हवाई पर कोहरे की स्थिति में उड़ानों के मार्ग में बदलाव की जरूरत नहीं पड़े।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You