प्रेमिका के प्यार में अंधे युवक ने पति व दूधमूंही बच्ची को गंगा में फेंका

  • प्रेमिका के प्यार में अंधे युवक ने पति व दूधमूंही बच्ची को गंगा में फेंका
You Are HereNational
Sunday, January 19, 2014-4:44 PM

हरिद्वार: प्रेमिका के प्यार में अंधे एक युवक ने पति व दूधमूंही बच्ची को गंगा में फेंक दिया। परिजनों को शक होने पर मामले का खुलास हुआ। पुलिस ने युवक व प्रेमिका को गिरफ्तार कर लिया है। फरीदाबाद निवासी संजीव पुत्र बिन्देश्वर का एक शादीशुदा महिला से प्रेम प्रसंग चल रहा था। संजीव की पत्नि रिंकू इसका विरोध करती थी। 15 जनवरी को संजीव अपनी पत्नि व प्रेमिका के साथ घूमने के बहाने से हरिद्वार आया था। संजीव की दो बेटियां तथा प्रेमिका की एक बेटी भी साथ आयी थी। सभी हरकी पैड़ी के पास एक होटल में रूके थे। 16-17 जनवरी की रात संजीव ने पति रिंकू को चाय में कोई नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया। उसके बेहोश होने के बाद उसने उसे कंधें पर लादा और ले जाकर हरकी पैड़ी के समीप ही गंगा में फेंक दिया। इसके बाद वह वापस होटल आया और अपनी 1 वर्षीय छोटी बेटी श्रुति को भी लेकर जाकर गंगा में फेंक दिया।

अगले दिन वापस जाने पर दिल्ली में उसकी मुलाकात अपने साले राजेश से हुई। राजेश के पूछने पर उसने उसे बताया कि हरकी पैड़ी पर स्नान करते समय रिंकू पैर फिसलने से गंगा में बह गयी साथ ही श्रुति भी उसके साथ बह गयी। लेकिन राजेश व अन्य परिजनों को उसकी बात पर यकीन नहीं हुआ और वह उसे वापस हरिद्वार लेकर आये तथा नगर कोतवाली पुलिस को मामले से अवगत कराया। पुलिस के पूछताछ करने पर संजीव ने पत्नि व बेटी को गंगा में फेंकने की बात कबूल करते हुए पूरा वाकया पुलिस को बयान कर दिया। पुलिस ने संजीव व उसकी प्रेमिका को गिरफ्तार कर लिया। गंगा में मां बेटी के शवों की तलाश की जा रही है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You