लालू का ट्विटर पर अकाउंट, कहा बदलाव प्रकृति का नियम है

  • लालू का ट्विटर पर अकाउंट, कहा बदलाव प्रकृति का नियम है
You Are HereNational
Monday, January 20, 2014-10:02 AM

पटना: राजद सुप्रीमो के ट्विटर पर अकाउंट खोलने को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के टिप्पणी पर लालू प्रसाद ने आज इसे सही ठहराते हुए कहा कि बदलाव प्रकृति का नियम है और युवा शक्ति की कोई उपेक्षा नहीं कर सकता।

लालू ने ट्वीट किया है, नीतीश जी बदलाव प्रकृति का नियम है। बदलाव को इस रूप में पहचानना जरूरी है । आप नये लोगों की उपेक्षा नहीं कर सकते। युवा ही शक्ति है । उन्होंने नीतीश को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि वह इंतजार करें कि कैसे पुराने लोग की बुद्धि और युवा की उर्जा ट्विटर के जरिए एक होकर प्रदेश में बदलाव लाएगी।

उल्लेखनीय है कि नीतीश ने कल एक कार्यक्रम के दौरान सोशल मीडिया के विस्तार की चर्चा करते हुए लालू का नाम लिए बगैर उनपर कटाक्ष करते हुए कहा था कि अब पुराने लोग भी ट्वीट करने लगे हैं । नीतीश ने कहा कि ट्वीट का मतलब चिडिय़ा की चहचाहट है और शब्दकोष में इसका अर्थ चीचीं या चेचें करना लिखा है।

उन्होंने ट्वीट का हिंदी माने चेचियाना बताते हुए लालू का नाम लिये बिना उनपर कटाक्ष करते हुए कहा कि नए लोग (युवा) चेचियाते हैं तो अच्छा लगता है पर आजकल पुराने लोग (लालू) भी देखा-देखी ऐसा करने लगे हैं। नीतीश ने कहा कि यह कौन सा युग है, उन्हें तो कभी-कभी अचरज होता है, कहीं तो आदमी को ठहरना चाहिए। लालू और नीतीश के बीच कल यह जुबानी जंग केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे की उपस्थिति में हुई थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You