धरने पर बैठे केजरीवाल बोले- सेक्स रैकेट पुलिस की मर्जी के बिना नहीं चलते

  • धरने पर बैठे केजरीवाल बोले- सेक्स रैकेट पुलिस की मर्जी के बिना नहीं चलते
You Are HereNational
Monday, January 20, 2014-5:01 PM

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को गृहमंत्रालय में धरने की इजाजत नहीं मिली। केजरीवाल रेल भवन के पास एक पार्क में ही धरने पर बैठे हुए हैं। उनके साथ 6 मंत्री भी धरना दे रहे हैं।

केजरीवाल ने कहा, ‘‘हां, मैं एक अराजकतावादी हूं और मैं इस अराजकता को गृह मंत्रालय तक ले जाउंगा। जांच काफी नहीं है, दिल्ली पुलिस को जवाबदेह होना होगा।’’

दिल्ली के सीएम ने दिल्ली पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि सेक्स रैकेट पुलिस की मर्जी के बिना नहीं चलते। दिल्ली पुलिस लोगों से पैसे वसूलती है। राखी बिड़ला के इलाके में पांच मर्डर हुए हैं, क्या राखी बिड़ला घर से निकलना बंद कर दे?

उन्होंने नई दिल्ली में सैकड़ों समर्थकों से कहा,  ‘‘हम 10 दिनों के प्रदर्शन की तैयारी के साथ आए हैं। अगर गणतंत्र दिवस के दौरान कोई हंगामा होता है,  तब केंद्र सरकार को दोषी ठहराया जाएगा।’’

मुख्यमंत्री ने कहा,  ‘‘हमने पहले भी लोगों को प्रदर्शन में हमारे साथ न आने की ट्विट की थी। अब हम आपसे इसमें शामिल होने का आह्वान करते हैं। मैं ईमानदार  पुलिसकर्मियों को छुट्टी लेकर हमारा साथ देने और न्याय के लिए लडऩे की अपील कर रहा हूं।’’

केजरीवाल ने कहा कि युगांडा उच्चायोग की महिला प्रतिनिधि ने दिल्ली के कानून मंत्री सोमनाथ भारती को पत्र लिख कर देह व्यापार और मादक पदार्थों के तस्करों के खिलाफ कार्रवाई के लिए उनका आभार जताया है।

केजरीवाल ने कहा, ‘‘उन्होंने शुक्रवार को हमें कार्रवाई के लिए शुक्रिया कहा है। उन्होंने कहा कि युगांडा से कई महिलाओं को काम देने के नाम पर लाया जाता है और उन्हें देह व्यापार में झोंक दिया जाता है।’’ मुख्यमंत्री ने कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कुछ मीडिया संस्थानों को भारती की आलोचना करने के लिए फटकार लगाया है।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं गणतंत्र दिवस की तैयारियों में दिक्कतें पैदा करना नहीं चाहता लेकिन जब दिल्ली की महिलाएं 'असुरक्षित' महसूस कर रही हैं, मैं चुप नहीं रह सकता’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You